माँ ने कहा, बेटी की हत्या से पहले उसके साथ सामूहिक बलात्कार

0 1

कोरबा| कोरवा आदिवासी के एक घर के 3 लोगों की हत्या मामले में मृतक झकरीराम की पत्नी ने आरोप लगाया है कि बेटी की हत्या से पहले उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म किया गया है। क्योकि मुख्य आरोपी संतराम यादव उसकी बेटी को पत्नी बनाना चाहता था जिसे वे नहीं चाहते थे| मामला बिलासपुर संभाग के कोरबा जिले के लेमरू थाना इलाके का है|gengrep

इधर पुलिस ने महिला का बयान को दर्ज कर लिया है। शवों का पोस्टमार्टम किया जा रहा था।

उधर पुलिस ने  मुख्य आरोपी संतराम यादव सहित 4 को गिरफ्तार कर लिया है।  वैसे पुलिस ने अभी इस मामले में प्राथमिकी दर्ज नहीं की है। हालांकि सभी आरोपी पुलिस की हिरासत में हैं। पुलिस पोस्टमार्टम और परिजनों के बयान का इंतजार कर रही थी।

इधर शुरुआती पंचनामें  में बलात्कार  की आशंका से इनकार नहीं किया गया है। किशोरी के शरीर पर संघर्ष के निशान मिले हैं। वहीं उसके कोख से भी रक्त बह रहा था। इसे देखते हुए पुलिस ने शार्ट पीएम रिपोर्ट मांगी है।

ज्ञात हो की  29 जनवरी को लेमरू क्षेत्र के गढ़-उपरोड़ा में पिता-पुत्री और 4 साल की नातिन की हत्या कर दी गई थी।  जंगल से इनकी लाशें बरामद की गई थी  थे। उस समय किशोरी जिंदा थी और उसे पत्थर रख दबा दिया गया था। अस्पताल लाते समय रास्ते में मौत हो गई।

बाकी दोनों की सिर कुचलकर हत्या की गई है। मुख्य आरोपी संतराम यादव सहित उमाशंकर यादव, अब्दुल जब्बार, अनिल सारथी, परदेशी दास व अनंत दास को हिरासत में है। जबकि परदेशी दास और अनंत दास फरार हैं।

इधर ग्रामीणों की माने तो यह घटना 30 जनवरी की है और किसी तरह भागकर झकरीराम की पत्नी ने अपनी जान बचाई। मृतक की पुत्री के साथ अनिष्ट की भी आशंका ग्रामीणों ने जताई थी|

Leave A Reply

Your email address will not be published.