ओडिशा हमलों में शामिल नक्सल कमांडर का समर्पण

0 3

बस्तर | छत्तीसगढ़ के पड़ोसी राज्य ओडिशा में कई नक्सल हमलों में शामिल 8 लाख के इनामी नक्सली कमांडर ने बीजापुर पुलिस के सामने आत्मसमर्पण कर दिया| वहीँ माड़ और महाराष्ट्र के गढ़चिरौली क्षेत्र में सक्रिय महिला नक्सली सुदरी मोडियाम ने भी आत्मसमर्पण किया|

एएसपी डॉक्‍टर पंकज शुक्ला, डीएसपी आशीष कुंजाम के समक्ष समर्पण करनेवाला सेक्शन डिप्टी कमांडर डोडी वेल्ला उर्फ सुरेश उर्फ विज्जा मेटापारा पेद्दागेलुर थाना तर्रेम जिला बीजापुर का  निवासी है| उस पर आठ लाख रुपये का इनाम घोषित था|

यह सेक्शन डिप्टी कमांडर वर्ष 2008 में ओडिशा के नयागढ़ पुलिस लाइन के प्रशिक्षण शाला में हमलाकर हथियार तथा कारतूस लूटने की घटना में शामिल था| इसी साल वह ओडिशा के चित्रकोंडा क्षेत्र के ग्राम बलपागुड़ा में   पुलिस पार्टी के साथ मुठभेड़ भी शामिल था| सन  2009 में ओडिशा के दामनजोड़ी खदान में लगे सुरक्षा बलों से हथियार लूटने समेत अन्य माओवादी घटना में भी शामिल था।

वहीँ माड़ और महाराष्ट्र के गढ़चिरौली क्षेत्र में सक्रिय नक्सली संगठन सदस्य के रूप में कार्य करने वाली सुदरी मोडियाम पत्नी आयतू   निवासी कोड़मेपारा पेद्दाकोरमा थाना गंगालूर जिला बीजापुर ने भी  समर्पण किया।

पुलिस के मुताबिक  बस्तर के बीजापुर जिले में नक्सली विचारधारा से तंग आकर और राज्य की पुनर्वास नीति से प्रभावित होकर  यह  आत्मसमर्पण किया गया है। समर्पण पर दोनों को दस-दस हजार रुपये की प्रोत्साहन राशि प्रदान की गई है।

इधर बस्तर के  दंतेवाड़ा में  2 नक्सलियों ने आत्मसमर्पण किया। इनमे से एक पर 1 लाख का इनाम था|

पुलिस ने बताया कि 1 लाख का ईनामी मिलिशिया कमांडर कमलू और सन्नू ओयामी मिलिशिया सदस्य ने दंतेवाड़ा एसपी अभिषेक पल्लव और सीआरपीएफ की टीम के सामने समर्पण किया |

ये दोनों नक्सली भैरमगढ़ एरिया कमेटी में लम्बे समय से सक्रिय थे। आत्मसर्पित नक्सलियों को 10-10 हजार रूपये की प्रोत्साहन राशि भी दी गयी है।

बता दें दंतेवाडा में ‘लोन वर्राटू’ से प्रभावित होकर अब तक 86 ईनामी नक्सली समेत 324 नक्सली सरेंडर कर चुके हैं।

Leave A Reply

Your email address will not be published.