माओवादी भास्कर महाराष्ट्र के गढ़चिरौली में मारा गया

छत्तीसगढ़-महाराष्ट्र सरकार ने 75 लाख का ईनाम रखा था   

0 12

बस्तर | महाराष्ट्र के गढ़चिरौली में कल मुठभेड़ में मारे गए माओवादियों में से एक माओवादी भास्कर मिचामी पर छत्तीसगढ़ और महाराष्ट्र ने 75 लाख का इनाम रखा था| 115 वारदातों में शामिल ये माओवादी दंडकारण्य जोनल समिति का सदस्य  और  उत्तर गढ़चिरौली डीवीजन कमेटी का सचिव भी था| माओवादी आंदोलन के लिए भास्कर की मौत को एक बड़ा सदमा माना जा रहा है|

महाराष्ट्र के गढ़चिरौली में कल मुठभेड़ में मारे गए सभी पांच माओवादियों की पहचान कर ली गई है|  इनमें से एक माओवादी रूसी राव जी उर्फ पवन उर्फ भास्कर मिचामी पर छत्तीसगढ़ सरकार ने 50 लाख वहीं महाराष्ट्र सरकार ने 25 लाख का ईनाम रखा था|

बताया गया कि भास्कर वर्तमान में दंडकारण्य जोनल समिति का सदस्य है और उसे उत्तर गढ़चिरौली डीवीजन कमेटी का सचिव भी बनाया गया है| उसपर 41 हत्या,पुलिस पार्टी पर हमलों और हिंसक वारदातों के कुल 115 केस दर्ज हैं|

माओवादियों के विस्फोट में वर्ष 2019 में 15 जवान शहीद हुए थे, इस घटना का मास्टरमाइंड भास्कर ही था|

मारे गए माओवादियों में टीपागड़ दलम के डिप्टी कमांडर सुखदेव नैताम भी शामिल हैं, जिस पर 10 लाख रुपये का इनाम है तथा प्लाटुन दल की सदस्य सुजाता गावडे भी मारी है जिस पर 15 लाख रुपये का इनाम घोषित है|

 

रूसी राव जी उर्फ पवन उर्फ भास्कर मिचामी पर 25 लाख का इनाम था। यह DKSZC का मेम्बर था और गढ़चिरौली डिवीजन में इसके खिलाफ 115 गम्भीर अपराध दर्ज हैं। राजू उर्फ बुद्धेसिंघ नेताम जो तिपागढ़ एलओएस का डिप्टी कमांडर था, पर 10 लाख इनाम था|   अमर मुया कुंजाम सुकमा के जगरगुंडा एलओएस में काम कर रहा था , पर दो लाख का इनाम था। इसके खिलाफ 08 मामले दर्ज थे। सुजाता उर्फ कमला उर्फ पुनिता गावड़े पर 31 मामले और 04 लाख का इनाम था । अस्मिता उर्फ सुखलु टिपागढ़ एलओएस की सदस्य थी और इस पर 11 मामले और दो लाख का इनाम है ।

बता दें महाराष्ट्र का गढ़चिरौली छतीसगढ़ के बस्तर संभाग के कांकेर जिले की सरहद से लगा है|     गढ़चिरौली इलाके के मालेवाडा कुरखेडा पुलिस क्षेत्र के अंतर्गत खोब्रामेड़ा के जंगल में नक्सलियों और फोर्स के जवानों के बीच मुठभेड़ हुई|

गढ़चिरौली महाराष्ट्र के डिप्टी एआईजी संदीप पाटिल ने   बताया कि खुफिया सूत्रों से सटीक जानकारी मिली थी कि खोब्रामेडा के जंगल में  नक्सली हर साल की तरह टीसीओसी के दौरान बड़ी संख्या में मौजूद हैं|

सूचना के आधार पर एएसपी मनीष कलवानिया के नेतृत्व में सी- 60 कमांडोज का एक दस्ता मौके के लिये रवाना किया गया जो तीन दिनों से आपरेशन पर था|

बीते शनिवार को एक बार नक्सलियों से आधे घण्टे तक मुठभेड़ भी हुई और नक्सली भाग निकले|

सोमवार को फिर करीब 60 से 70 मिनट की मुठभेड़ हुई| जवानों को भारी पड़ता देख नक्सली घने जंगल की ओर भाग निकले|

घटना स्थल की सर्चिंग में पुलिस को 5 नक्सलियों के शव बरामद हुये तथा मौके से बड़ी मात्रा में नक्सल सामग्री और अत्याधुनिक हथियार बरामद हुई| मारे गये नक्सलियों की पहचान भी कर ली गई है, सभी बड़े कैडर के हैं|

 माओवादी भास्कर महाराष्ट्र के गढ़चिरौली में मारा गया

 

Leave A Reply

Your email address will not be published.