मुठभेड़ में एक लाख का इनामी नक्सली मारा गया

मुठभेड़ में जवानों ने लाख रुपये के  इनामी नक्सली को ढेर कर दिया

0 1

दंतेवाड़ा|  दंतेवाड़ा जिले के कटेकल्याण थाना क्षेत्र के गादम और जंगमपाल क जंगलों में  रविवार की दोपहर DRG जवानों और नक्सलियों के बीच मुठभेड़ हुई है| मुठभेड़ में जवानों ने लाख रुपये के  इनामी नक्सली को ढेर कर दिया है| मौके  से जवानों ने नक्सली के शव के साथ दो हथियार समेत अन्य सामान भी बरामद किया है|

दंतेवाड़ा एसपी डॉ अभिषेक पल्लव ने बताया कि गादम और जंगमपाल के जंगलों में नक्सलियों की मौजूदगी की सूचना मिलने के बाद DRG की एक टीम को मौके पर के लिए रवाना किया गया था|

मौके पर पहुंचने के बाद DRG जवानों ने इलाके की घेराबंदी करना शुरू किया,इसी दौरान नक्सलियों की नजर अचानक जवानों पर पड़ गई और फायरिंग शुरू कर दी|

हमला होते ही  जवानों ने भी मोर्चा संभालते हुए जवाबी कार्रवाई की.मुठभेड़ में जवानों ने एक लाख रुपये ईनामी नक्सली को मार गिराया है|

मारे गए नक्सली की शिनाख्त मिलिशिया कमांडर वेट्टी हूंगा के रूप में की गई है|

DRG जवानों को भारी पड़ता देख नक्सली जंगलों का फायदा उठाते हुए मौके से फरार हो गए|

मुठभेड़ के बाद DRG ने इलाके में सर्च ऑपरेशन चलाया, जिसमें मारे गए नक्सली का शव बरामद कर लिया है|

दंतेवाड़ा एसपी ने दावा करते हुए बताया कि मुठभेड़ में कम से कम 8 से 10 नक्सली मारे गये है जिनके शवों को नक्सली अपने साथ ले जाने में सफल हुये है|

जवानों ने मौके से नक्सली के शव के साथ एक 8 एमएम पिस्टल, एक देसी भरमार बंदूक, दो किलो वजनी एक आईईडी बम, पटाखे, दो पिट्ठू, नक्सली साहित्य, दवाईयां और दैनिक उपयोगी सामान बरामद किया है|

उधर बीजापुर जिला मुख्यालय से 15 किलोमीटर दूर बीजापुर गीदम नेशनल हाइवे पर मिनगाछल नदी किनारे निर्माणाधीन इंटेकवेल निर्माण में इस्तेमाल 2 जेसीबी, एक ट्रैक्टर, दो एंजाक्स को नक्सलियों ने जला दिया|  सीआरपीएफ मौके पर पहुँच गई है|

नक्सलियों ने बीजापुर गीदम नेशनल हाइवे पर मिनगाछल नदी किनारे निर्माणाधीन इंटेकवेल निर्माण में इस्तेमाल 2 जेसीबी, एक ट्रैक्टर, दो एंजाक्स को जला दिया|

बता दें बस्तर में 3 अप्रैल को बीजापुर जिले में  मुठभेड़ में 22 जवानों की शहादत हुई थी| 30 घायल जवानों को अस्पताल पहुंचाया गया था| कोबरा बटालियन का  जवान राकेश्वर लापता था जिसे नक्सलियों ने बंधक बना लिया था| बाद में इस जवान को नक्सलियों ने रिहा भी कर दिया|

Leave A Reply

Your email address will not be published.