गांव में नाकाबंदी, शहरों में लॉक डाउन तोड़ रहे

भाटपाल पंचायत ने गाँव की सीमा को सील कर दिया

0 4

बस्तर | शहरों में जहाँ लोग बेफिक्र बेवजह निकल लॉक डाउन तोड़ रहे हैं| वहीँ   ग्रामीण अपने गांव में नाकाबंदी कर बाहरी लोगों के प्रवेश पर प्रतिबंध लगा रहे हैं|

बढ़ते कोरोना संक्रमण को लेकर बस्तर के ग्रामीणों की जागरूकता देखते ही बनती है| शहरी इलाकों में जहां लोग बेफिक्र हो कर घरों से निकल लॉक डाउन तोड़ रहे हैं| वहीँ ग्रामीण अपने गांव में बाहरी लोगों के प्रवेश पर प्रतिबंध लगा रहे हैं|

बस्तर के  ग्राम पंचायत भाटपाल जहाँ के जागरूक ग्रामीणों द्वारा गाँव की सीमा को सील कर दिया है|

ग्राम पंचायत भाटपाल के पूर्व सरपँच नारायण कश्यप व वालिटीयर अर्जुन सिंह कश्यप का कहना है  कि जागरूकता ही कोरोना बीमारी से बचा जा सकता  है|

उन्होंने  बताया कि ग्राम में पहुचने वाली सीमाओं  में बेरिकेट के माध्यम से लोगों  को गाँव मे प्रवेश करने नहीं दिया जा रहा है साथ ही लोगो से घरों में रहने की अपील भी की जा रही है|

पंचायत की ओर से हर जरूरत मन्दो को पूरी मदद की जा रही है| आमचो बस्तर रेडियो के माध्यम से भी लोगो को कोरोना महामारी से कैसे मुकाबला करें नियमित जागरूकता का संदेश दिया जा रहा है|

बता दें बस्तर में 15 से 26 अप्रैल तक संपूर्ण लॉक डाउन है|

शहरी इलाकों में  बेपरवाह होकर घूमने में मस्त  लोगों पर पुलिस को सख्त होना पड़ा और ऐसे लोगों के वाहन जब्त करनी शुरू कर दी|

गुरुवार की सुबह से पुलिस विभाग ने सख्ती दिखाते हुए बेवजह घूमने  वाले 200 से अधिक लोगों की दुपहिया जब्त कर ली| इनमें महिलाएं भी शामिल है| बस्तर पुलिस का कहना है  जब तक लॉक डाउन की अवधि समाप्त नहीं हो जाती वाहनें जब्त रहेंगीं|

बस्तर में पिछले 3 सप्ताह से कोविड 19 संक्रमितों की  संख्या में भारी बढ़ोतरी देखी जा रही है| मौतों का आंकड़ा भी काफी बढ़ने लगा है| इन सब बातों को ध्यान में रखते हुए प्रशासन लगातार लोगों को लॉक डाउन का पालन करने सहित बेवजह ना घूमने की हिदायत दे रही है|

Leave A Reply

Your email address will not be published.