निगम चुनाव : भिलाई के कांग्रेस विधायक स्ट्रांग रूम में,  चुनाव आयोग से शिकायत

भिलाई नगर निगम चुनाव में आदर्श आचार संहिता के उल्लंघन का मामला प्रकाश में आया है। भिलाई के विधायक देवेन्द्र यादव द्वारा मतदान कक्ष से कांग्रेस चिन्ह निशान के बैलेट पेपर की तस्वीर और स्ट्रांग रूम   निरीक्षण का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है |

0 26

भिलाई। भिलाई नगर निगम चुनाव में आदर्श आचार संहिता के उल्लंघन का मामला प्रकाश में आया है। भिलाई के विधायक देवेन्द्र यादव द्वारा मतदान कक्ष से कांग्रेस चिन्ह निशान के बैलेट पेपर की तस्वीर और स्ट्रांग रूम   निरीक्षण का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है |पूर्व केबिनेट मंत्री प्रेम प्रकाश पाण्डेय ने  चुनाव आयोग से शिकायत इसकी शिकायत की है |  

भिलाई नगर निगम चुनाव में आदर्श आचार संहिता के उल्लंघन का मामला प्रकाश में आया है। निर्वाचन आयोग की रोक के बाद भी भिलाई के विधायक देवेन्द्र यादव द्वारा मतदान कक्ष से कांग्रेस चिन्ह निशान के बैलेट पेपर का मोबाइल से फोटो खींच सार्वजनिक किया गया है।

- Advertisement -

यही नहीं भिलाई के विधायक देवेन्द्र यादव द्वारा मतगणना स्थल जाकर स्ट्रांग रूम का निरीक्षण करने का वीडियो वायरल हुआ है। पूर्व मंत्री प्रेमप्रकाश पाण्डेय ने इसकी शिकायत राज्य निर्वाचन आयोग से की है।
शिकायत में यह कहा गया कि भिलाई नगर निगम चुनाव में मतगणना स्थल में किसी भी सुरक्षा प्राप्त जनप्रतिनिधि का प्रवेश कर सुरक्षा कर्मियों के साथ निरीक्षण करना, और स्ट्रांग रूम में प्रवेश करना आचार संहिता का उल्लंघन है।

विधायक देवेन्द्र यादव ने बुधवार को मतगणना स्थल जाकर स्ट्रांग रूम का निरीक्षण किया था। इसका वीडियो भी वायरल हुआ है।
यही नहीं, मतदान के दौरान मोबाइल ले जाने, और फोटो खींचने पर रोक के बावजूद बड़े पैमाने पर मतदान कक्ष से कांग्रेस चिन्ह निशान के बैलेट पेपर मोबाइल से फोटो खींचकर सार्वजनिक किए गए।

भाजपा ने कांग्रेस नेताओं पर चुनाव आचार संहिता का उल्लंघन करने के साथ-साथ खरीद फरोख्त के भी आरोप लगाए हैं। मतगणना के पहले वीडियो वायरल होने से हलचल मची हुई है। पूर्व मंत्री श्री पाण्डेय राज्य निर्वाचन आयुक्त ठाकुर रामसिंह से इसकी शिकायत कर कार्रवाई की मांग की है।

इस पर राज्य निर्वाचन आयुक्त ठाकुर राम सिंह ने कहा है कि पूर्व कैबिनेट मंत्री प्रेम प्रकाश पांडे की शिकायत उन्हें प्राप्त हुई है इस शिकायत को उनके द्वारा जांच के लिए जिला निर्वाचन अधिकारी एवं दुर्ग कलेक्टर डॉ सर्वेश्वर नरेंद्र भूरे प्रेषित कर दी है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.