chhattisgarh में corona की स्पीड धीमी, नये मामले 10 हजार से कम

chhattisgarh  में शनिवार को कोरोना की स्पीड थोड़ी धीमी हुई| जहाँ नए संक्रमितों का आंकड़ा 10 हजार से कम रहा वहीँ मौत का आंकड़ा भी 200 से नीचे रहा|   chhattisgarhमें शनिवार को जारी मेडिकल बुलेटिन के मुताबिक जहां 188 मौतें हुई है, वहीँ 9120 नये मरीज आये हैं।

0 1

रायपुर। chhattisgarh  में शनिवार को कोरोना की स्पीड थोड़ी धीमी हुई| जहाँ नए संक्रमितों का आंकड़ा 10 हजार से कम रहा वहीँ मौत का आंकड़ा भी 200 से नीचे रहा|   chhattisgarhमें शनिवार को जारी मेडिकल बुलेटिन के मुताबिक जहां 188 मौतें हुई है, वहीँ 9120 नये मरीज आये हैं। प्रदेश में अब कुल एक्टिव केस जहां 1.26 लाख से ज्यादा हुई है। छत्तीसगढ़ में 12 हज़ार 810 मरीज कोरोना से स्वस्थ्य हुए हैं।

chhattisgarh में रायगढ़ में सर्वाधिक 687, जांजगीर में 600 नए मरीज मिले। कोरबा में 571, बलौदाबाजार में 635 नए मरीज मिले, जबकि बिलासपुर में ये आंकड़ा 572 रहा। राजधानी में 392, दुर्ग में 294 नये मामले मिले।

मौतों में राजधानी रायपुर आवल रहा जहाँ 26 मौत हुई है, जबकि बलौदाबाजार में 23, बिलासपुर में 22, जांजगीर में 16 मौत दर्ज हुई।

इधर हाई कोर्ट के निर्देश के बाद chhattisgarh  में चार अलग-अलग कैटेगरी में टीकाकरण होगा। पहले तीन श्रेणियों में टीकाकरण हो रहा था, जिसमें अंत्योदय कार्डधारी, बीपीएल कार्डधारी के अलावा एपीएल शामिल था, अब फ्रंटलाइन वर्कर को भी शामिल किया गया है।

chhattisgarh सरकार की तरफ से जारी आदेश में फ्रंट लाइन वर्कर के लिए कुल वैक्सीन का 20 प्रतिशत, अंत्योदय कार्डधारियों को कुल वैक्सीन डोज का 12 प्रतिशत, बीपीएल परिवारों को कुल वैक्सीन डोज का 52 प्रतिशत और एपीएल परिवारों को कुल वैक्सीन डोज का 16 प्रतिशत मिलेगा।

chhattisgarh  में चार अलग-अलग कैटेगरी में टीकाकरण होगा

chhattisgarh सरकार द्वारा फ्रंट लाईन वर्कर की सूची में जिन श्रेणियों को शामिल किया है उनमें स्वास्थ्य विभाग द्वारा परिभाषित कोमार्बिडिटी वाले व्यक्ति, भोजन प्रदाय करने वाले एवं सब्जी विक्रेता,  बस ड्राइवर कंडक्टर, पत्रकार, वकील, आंगनबाड़ी कार्यकर्ता, मितानिन, पंचायत सचिव/कर्मी, पीडीएस दुकान प्रबंधक और विक्रेता, इंसटिटुशनल केयर में रहने वाली महिलाएं, गांव के कोटवार एवं पटेल, राज्य सरकार के कर्मचारी, राज्य पब्लिक सेक्टर अंडरटेकिंग के कर्मचारी और उनके इमिडियेट परिजन शामिल हैं।

जारी सूची में वृद्धाश्रम में, महिला देखभाल केन्द्रों एवं बाल देखभाल में कार्यरत व्यक्ति, शमशान, कब्रिस्तान में कार्यरत व्यक्ति, दिव्यांग व्यक्ति, आवश्यक सेवाएं प्रदान करने वाली अर्धशासकीय संस्थाओं जैसे- प्राथमिक कृषि सहकारी समिति, मार्कफेड, सहकारी बैंक में कार्यरत कर्मचारी, कलेक्टर द्वारा कोरोना ड्यूटी पर लगाए गए व्यक्ति, राज्य शासन द्वारा परिभाषित किसी अन्य श्रेणी के व्यक्ति को भी शामिल किया गया है।

 

Leave A Reply

Your email address will not be published.