बिलासा देवी केंवट एयरपोर्ट पर टेस्टिंग फ्लाइट की सफल लैंडिंग

0 24

बिलासपुर | आख़िरकार लंबी जद्दोजहद और लड़ाई के बाद गुरुवार को बिलासपुर एयरपोर्ट पर टेस्टिंग फ्लाइट की सफल लैंडिंग हुई। एलाइंस एयर की इस फ्लाइट को दोपहर करीब 2 बजे रायपुर से कैप्टन चिराग ठक्कर बिलासपुर लेकर पहुंचे।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने इस पर खुशी जताते हुए एयरपोर्ट का नाम ‘बिलासा देवी केंवट एयरपोर्ट’ करने की घोषणा कर दी।

बिलासपुर के चकरभाटा एयरपोर्ट के रन-वे पर जैसे ही फ्लाइट लैंड हुई वहां मौजूद लोगों ने ताली बजाकर उसका स्वागत किया। इससे पहले फ्लाइट ने एयरपोर्ट के ऊपर दो चक्कर लगाए। इसके बाद एयरपोर्ट का नया नाम बिलासा देवी केंवट एयरपोर्ट सोशल मीडिया पर आ गया।

भूपेश बघेल ने छत्तीसगढ़ मछुआरा समाज और मछुआ कल्याण बोर्ड के अध्यक्ष एमआर निषाद के आग्रह पर एयरपोर्ट का नया नामकरण कर दिया।

बिलासपुर से दिल्ली के लिए ATR 72 एयरक्राफ्ट की दो फ्लाइट सोमवार, बुधवार, शुक्रवार और रविवार को संचालित होगी। पहली फ्लाइट दिल्ली से रवाना होकर जबलपुर होते हुए अपराह्न 3.20 बजे बिलासपुर पहुंचेगी। यहां से 3.45 बजे प्रयागराज होते हुए दिल्ली लौटेगी। (दिल्ली-जबलपुर-बिलासपुर (1520-1545)-प्रयागराज-दिल्ली)।

इसी तरह दूसरी फ्लाइट दिल्ली से प्रयागराज होते हुए शाम 4 बजे बिलासपुर पहुंचेगी। यहां से फिर 4.30 बजे जबलपुर होते हुए दिल्ली जाएगी (दिल्ली-प्रयागराज-बिलासपुर (1600-1630)-जबलपुर-दिल्ली)। इसके पहले एलाइंस एयर ने बुधवार शाम को उड़ानों का शेड्यूल जारी कर दिया है। 1 मार्च की उड़ान के लिए टिकटों की बुकिंग भी अब से शुरू हो गई है।

 मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने केंद्रीय उड्‌डय मंत्री हरदीप सिंह पुरी से बिलासपुर से दिल्ली, मुंबई और कोलकाता से एयर कनेक्टीविटी की अनुमति देने का आग्रह किया था। वहीं रायपुर में कार्गो हब की सुविधा विकसित करने के लिए AAI के चेयरमेन को स्थल निरीक्षण के निर्देश दिए गए हैं। साथ ही अंबिकापुर व जगदलपुर एयरपोर्ट से महानगरों के लिए विमान सेवा शुरू करने का भी सकारात्मक आश्वासन मिला है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.