Odisha से लौटे पिथौरा के दो दर्जन मजदूर कोविड पॉजिटिव निकले

ओडिशा से लौटे महासमुंद जिले के पिथौरा ब्लाक के गोपालपुर पंचायत के दो दर्जन मजदूर कोविड पॉजिटिव निकले| ये मजदूर कोविड टेस्ट के बगैर ही सीधे अपने घर लौटे थे| ग्रामीणों ने उनके घरों से निकाल कर स्वास्थ्य केंद्र के कर्मियों को बुलाकर कोविड जांच करवाई गई।सभी संक्रमित मजदूरों का उपचार स्थानीय स्वास्थ्य अमले द्वारा किया जा रहा है।

0 5

महासमुंद |  Odisha से लौटे महासमुंद जिले के पिथौरा ब्लाक के गोपालपुर पंचायत के दो दर्जन मजदूर कोविड पॉजिटिव निकले| ये मजदूर कोविड टेस्ट के बगैर ही सीधे अपने घर लौटे थे| ग्रामीणों ने उनके घरों से निकाल कर स्वास्थ्य केंद्र के कर्मियों को बुलाकर कोविड जांच करवाई गई।सभी संक्रमित मजदूरों का उपचार स्थानीय स्वास्थ्य अमले द्वारा किया जा रहा है।

महासमुंद जिले से अन्य प्रांतों के ईंट भट्ठे में काम कर कोविड टेस्ट के बगैर ही सीधे अपने घर लौटे मजदूरों के एक जत्थे का कोविड टेस्ट करवाया तो उनमें से 24 मजदूर कोविड पॉजिटिव निकले। ये मजदूर पिथौरा ब्लॉक के गोपालपुर पंचायत के हैं|

मिली जानकारी के मुताबिक  ईट भट्टा में काम करने Odisha गए 32 पिथौरा ब्लाक के मजदूर कल ही वापस अपने गांव गोपालपुर लौटे थे। अपने घरों तक पहुँच  चुके इन मजदूरों को स्थानीय एस डी एम राकेश कुमार गोलछा के सख्त निर्देश के चलते  ग्रामीणों ने उनके घरों से निकालकर स्वास्थ्य केंद्र के कर्मियों को बुलाकर कोविड जांच करवाई गई। कोविड जांच के बाद 32 में से 24 मजदूर पॉजिटिव पाए गए।

स्थानीय प्रशासन   के अनुसार Odisha के गंजाम जिला के छतरपुर में ईट बनाने का काम करने महासमुंद जिले के पिथौरा विकासखंड के ग्राम गोपालपुर से कुछ मजदूर गए हुए थे। ईट बनाने का काम कर सभी मजदूर वापस लौटने के पश्चात अपने घरों को चले गए थे जिन्हें ग्राम सुरक्षा समिति द्वारा गोपालपुर स्थित कोरनटाइन सेंटर में लाया गया।

इनकी सूचना पिथौरा स्वास्थ्य विभाग को दी गयी। इसके बाद स्वास्थ्य अमला कोविड जांच के लिए पहुंचा |Odishaसे लौटे सभी 32 मजदूरों का कोविड टेस्ट किया गया इनमें से 24 मजदूर पॉजिटिव पाए गए।इतनी ज्यादा संख्या में पॉजिटिव होने से ग्राम एवम क्षेत्र में एक बार पुनः दहशत का माहौल है।

लक्षण वाले मरीज केअर सेंटर में-एसडीएम

स्थानीय एस डी एम राकेश कुमार गोलछा ने बताया कि सभी ग्राम पँचायतो को हाई एलर्ट पर रखा गया है।ग्रामीण स्वयम ही शिफ्ट में रतजगा कर ग्राम की चौकीदारी कर रहे है।बाहर से आने वाले ग्रामीणों को हर हाल में कोरेंटाइन किया जाने लगा है। क्षेत्र के प्रायः अधिकांश  ग्रामो के मजदूर धीरे धीरे अपने घरों को आ रहे है।इसलिए सभी को ग्राम पंचायत के माध्यम से पहले ग्राम के कोरेंटाइन सेंटर में रख कर उनका कोविड टेस्ट अनिवार्यतः कराया जा रहा है। गोपालपुर के पॉजिटिव ग्रामीणों में बगैर लक्षण वालो को ग्राम के स्कूलों में ही आइसोलेट किया जा रहा है।जबकि लक्षण वालो को पिथौरा के कोविड केअर सेंटर में अनिवार्यतः रखा जा रहा है।

 42 मजदूर कोरेंटाइन में – सचिव

ग्राम पंचायत गोपालपुर के सचिव जयप्रकाश अवस्थी के अनुसार शासकीय मिडिल स्कूल को कोरेंटाइन सेंटर बनाया गया है । यहां अभी 42 मजदूर कोरेंटाइन में है तथा कल 24 मजदूर Odisha  से वापस आए थे पॉजिटिव पाए उनमें लक्षण दिखने वाले मजदूरों को आज पिथौरा कोविड सेंटर भेजा जाएगा।

Leave A Reply

Your email address will not be published.