गढ़चिरौली में दो मुठभेड़ों में 5 नक्सली मारे गये

घटनास्थल से  भारी मात्रा में हथियार भी बरामद

0 3

राजनांदगांव| छत्तीसगढ़ के राजनादगांव जिले से सटे महाराष्ट्र के गढ़चिरौली जिले में पुलिस ने दो मुठभेड़ों में 5 नक्सलियों को मार  गिराया| इनमें 2 महिला नक्सली हैं| घटनास्थल से  भारी मात्रा में हथियार भी बरामद किया गया है।

मिली जानकारी के अनुसार महाराष्ट्र के गढ़चिरौली जिले के खोब्रामेन्धा वन क्षेत्र में पुलिस ने पांच नक्सलियों को मुठभेड़ में मार गिराया है. मारे गए नक्सलियों में दो महिला और तीन पुरुष नक्सली शामिल है। मुठभेड़ के बाद जवानों ने जंगल से भारी मात्रा में हथियार भी बरामद किया है।

पहला मुठभेड़  तब हुआ, जब गढ़चिरौली पुलिस की सी-60 कमांडो टीम शनिवार सुबह तलाशी अभियान में लगी हुई थी।  दोनों ओर से गोलीबारी एक घंटे से अधिक समय तक जारी रही, जिसके बाद नक्सलवादी पीछे हट गए और सुबह के समय वह जंगल में अंदर की तरफ भाग गए।

पुलिस ने आसपास के क्षेत्र में छानबीन की और इलाके से 3 प्रेशर कुकर बम, 303 राइफल मैगजीन, जिंदा कारतूस, बिजली के तारों के बंडल, फायर-क्रैकर बम, दवाइयां और अन्य सामग्री बरामद की गई।

जब कमांडो की एक नई टीम ने जंगल में सर्च ऑपरेशन फिर से शुरू किया, तो उन्हें लगभग 25 नक्सलवादियों के एक समूह का सामना करना पड़ा, जिन्होंने उन पर अंधाधुंध गोलीबारी शुरू कर दी।

दूसरी मुठभेड़ के दौरान  जवानों ने पांच नक्सलियों को मार गिराया, जिसमें दो महिलाएं भी शामिल हैं। उन्होंने कहा कि इलाके में तलाश अभी भी जारी है। मारे गए नक्सलियों की पहचान करने के लिए प्रयास चल रहे हैं|

बता दें महाराष्ट्र के कई इलाके छत्तीसगढ़ की सरहद से सटे हैं इनमें बस्तर संभाग का इलाका भी शामिल है|  बीती 24 मार्च को नारायणपुर में नक्सलियों ने जवानों  की बस को बारूदी विस्फोट से उड़ा दिया था|जिसमें पांच जवान शहीद हो गए थे|

नक्सल प्रभावित गढ़चिरौली जिले के कोरपर्शी जंगल में पुलिसकर्मियों और नक्सलियों के बीच 24 दिन पहले भी एक बड़ी मुठभेड़ हुई थी। करीब 12 घंटे तक चली मुठभेड़ में एक C-60 कमांडो शहीद हुए थे जबकि कुछ जवान घायल भी हुए थे। मुठभेड़ की जगह पर कमांडोज के फंसे होने की सूचना भी मिली थी जिसके बाद उन्हें निकालने के लिए एयरफोर्स से मदद मांगी गई थी।

महाराष्ट्र-छत्तीसगढ़ बॉर्डर पर स्थित कोरपर्शी जंगल में C-60 जवानों पर यह हमला तब हुआ था जब वे कुछ गांवों में तलाशी अभियान चला रहे थे। इन गांवों में भारी संख्या में नक्सलियों के पहुंचने की जानकारी मिली थी। इस दौरान दोनों ओर से भीषण गोलीबारी हुई। मौके पर कांकेर पुलिस के 270 से ज्यादा पुलिसकर्मियों को भेजा गया था।

Leave A Reply

Your email address will not be published.