कर्नाटक विधानसभा में MLA का बयान, जब रेप होना ही है तो इसके मजे लो, मचा बवाल

कर्नाटक विधानसभा के पूर्व अध्यक्ष और कांग्रेस MLA रमेश कुमार  ने विधानसभा में दिए गए अपने बयान - जब रेप होना ही है तो लेट जाओ और इसके मजे लो, की  चौतरफा निंदा के बाद माफ़ी मांग ली | उधर स्पीकर  वीएच कागेरी कहते हैं, ''उन्होंने माफी मांग ली है, इसे आगे न खींचें|

0 22

- Advertisement -

कर्नाटक विधानसभा के पूर्व अध्यक्ष और कांग्रेस MLA रमेश कुमार  ने विधानसभा में दिए गए अपने बयान – जब रेप होना ही है तो लेट जाओ और इसके मजे लो,  पर  मचे बवाल और चौतरफा निंदा के बाद माफ़ी मांग ली | उधर स्पीकर  वीएच कागेरी कहते हैं, ”उन्होंने माफी मांग ली है, इसे आगे न खींचें|

बता दें कर्नाटक विधानसभा स्पीकर कागेरी ने विधायकों के प्रश्नकाल बढ़ाने के अनुरोध के जवाब में जब कहा कि वह ऐसा नहीं कर सकते और विधायकों को इस स्थिति का आनंद लेना चाहिए|

- Advertisement -

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, कागेरी के ऐसा कहने के बाद कांग्रेस MLA रमेश कुमार ने उनकी तुलना बलात्कार पीड़िता से करते हुए कहा स्पीकर से कहा, कांग्रेस विधायक विधानसभा बोले कि एक कहावत है, जब रेप होना ही है तो लेट जाओ और इसके मजे लो।

कांग्रेस MLA रमेश कुमार के बयान पर कर्नाटक विधानसभा के अध्यक्ष विश्वेश्वर हेगड़े कागेरी ने कोई कार्रवाई नहीं की और इस बात पर हंसने लगे।

विधानसभा में कांग्रेस के MLA के इस बयान की चारों तरफ निंदा शुरू हो गई। हालांकि, उन्हें अपने बयान पर माफी मांग ली।

कांग्रेस विधायक रमेश ने अपने ट्विटर अकाउंट से ट्वीट करते हुए लिखा, विधानसभा में रेप पर दिए गए अपने बयान पर मैं माफी मांगता हूं। ऐसे गंभीर अपराध का जिक्र मजे के तौर पर करने का मेरा इरादा नहीं था। आगे से अपने शब्दों का चुनाव करते समय मैं बहुत ज्यादा सावधानी बरतूंगा। (deshdesk)

Leave A Reply

Your email address will not be published.