केंद्र ने  हमारा 18 हजार करोड़ रुपये रोक रखा है – भूपेश बघेल

0 1

रायपुर| केंद्र सरकार ने हमारा 18 हजार करोड़ रुपये रोक रखा है। केंद्र  यह राशि दे दे तो राज्य को कर्ज लेने की जरूरत ही नहीं पड़ेगी।  केंद्र सरकार हमारा पैसा नहीं दे पा रही है और हमें कर्ज लेने के लिए कह रही है और आप हमें नसीहत दे रहे हैं।

उक्त मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने छत्तीसगढ़ सरकार पर ज्यादा कर्ज लेने के आरोपों पर कहीं|

विधानसभा में वित्तीय वर्ष 2021-22 के बजट पर सामान्य चर्चा का जवाब देते हुए उन्होंने   कहा कि केंद्र सरकार ने हमारा 18 हजार करोड़ रुपये रोक रखा है। केंद्र सरकार यह राशि दे दे तो राज्य को कर्ज लेने की जरूरत ही नहीं पड़ेगी।

उन्होंने जनघोषणा पत्र के वादे पूरे नहीं होने के विपक्ष के आरोपों पर उन्होंने कहा कि केंद्र हमारा पूरा पैसा दे दे तो हम अपना हर वादा पूरा कर देंगे। सदन में चर्चा के दौरान विपक्ष की तरफ से सदन में उठाए गए हर सवाल और आरोप का सीएम ने आंकड़ों के साथ   जवाब दिया।

मुख्यमंत्री बघेल ने सदन में प्रमुख विपक्षी भाजपा पर हमला करते  कहा कि 2003 में भाजपा जब सत्ता में आई तब खजाने में 400 करोड़ रुपये अतिरिक्त था। लेकिन आपने हमें 41 हजार करोड़ रुपये का कर्ज विरासत में दिया है। इस कर्ज और उसके ब्याज को हम भर रहे हैं।

बघेल ने पूर्व सीएम डा. रमन सिंह पर कटाक्ष करते कहा कि आपने विज्ञापन और होर्डिंग पर जो करोड़ों रुपये कर्ज किया था, वह कर्ज भी हम भी भर रहे हैं।

प्रदेश में वित्तीय प्रबंधन खराब होने का जवाब देते हुए उन्होंने आंकड़ों के साथ बताया कि आपकी केंद्र सरकार से हमारा वित्तीय प्रबंधन कई गुना बेहतर है। केंद्र सरकार हमारा पैसा नहीं दे पा रही है और हमें कर्ज लेने के लिए कह रही है और आप हमें नसीहत दे रहे हैं।

 मुख्यमंत्री ने सदन में आंकड़े पेश करते हुए कहा की जीएसटी लागू होने के बाद से राज्य के राजस्व में कमी आई है। उन्होंने कहा कि यदि जीएसटी नहीं होती तो हम वैट वसूल करते, हमें राजस्व प्राप्त होता। हम उत्पादक राज्य हैं। जीएसटी की वजह से हमें घाटा उठाना पड़ रहा है। जीएसटी का पूरा पैसा केंद्र सरकार ले रही और हमें हमारा हिस्सा भी नहीं दे रही है। यहां आप (विपक्ष) कर्ज लेने और वादे पूरे नहीं होने का आरोप लगा रहे हैं। हाथ-पैर बांधकर दौड़ने के लिए कह रहे हैं|

Leave A Reply

Your email address will not be published.