महासमुंद जिले की 482 ग्राम पंचायतों में पहुंचा भारत नेट कनेक्शन

छत्तीसगढ़ के महासमुंद जिले की 551 ग्राम पंचायतों में 482 ग्राम पंचायतों में भारत नेट प्रोजेक्टर के तहत इंटरनेट की सुविधा मुहैय्या करायी गई है।

0 161

- Advertisement -

- Advertisement -

महासमुंद | छत्तीसगढ़ के महासमुंद जिले की 551 ग्राम पंचायतों में 482 ग्राम पंचायतों में भारत नेट प्रोजेक्टर के तहत इंटरनेट की सुविधा मुहैय्या करायी गई है।

वैश्विक महामारी (कोरोना काल के बाद) आर्थिक और सामाजिक स्तर पर डिजीटल उपयोगिता की जरूरत ज्यादा महसूस की जा रही थी। ऐसे में सरकार का मुख्य उद्देश्य ग्रामीण इलाकों में ब्रॉड बैंड का इंफ्रास्ट्रक्चर खड़ा करना था। जिससे इंटरनेट की दिक्कतों में समाधान हो सके। जिले की ग्राम पंचायतों में भारत नेट की दिशा में तेजी से काम हुआ। यह काम पहले से भी आगे बढ़ रहा था। इस काम में और तीव्रता आयी।
जिला प्रबंधक एनआईसी श्री भूपेन्द्र अम्बिलकर ने बताया कि जिले की 551 ग्राम पंचायतों में 482 ग्राम पंचायतों में भारत नेट प्रोजेक्टर के तहत इंटरनेट की सुविधा मुहैय्या करायी गई है। इन ग्राम पंचायतों में ऑप्टिकल फाईबर जोड़ा गया है। इन ग्राम पंचायतों में सस्ती कीमत पर ब्रॉड बैंड और वाईफाई सर्विस मिल रही है। 482 ग्राम पंचायतों के लोग सूचना तंत्र से जुड़ रहे हैं और ग्राम पंचायत स्तर से लेकर स्कूल, पंचायत, दफ्तर, पोस्ट ऑफिस सभी एक-दूसरे के सम्पर्क में आ जायेंगे।

भारत नेट प्रोजेक्ट का लक्ष्य जिले के अंतिम कोने तक वाईफाई के जरिए कनेक्टिविटी पहुंचाना है। इसके लिए सभी ग्राम पंचायतों में वाई-फाई हॉटस्पॉट स्थापित किए जा रहे हैं। ग्रामीण क्षेत्रों में इंटरनेट की पहुंच होने से ग्रामीणों को स्वास्थ्य, शिक्षा, रोजगार, कौशल, ई-कृषि, ई-वाणिज्य जैसी सेवाएं पहुंचाने में मदद मिलेगी और जिले का सर्वांगीण विकास भी होगा।

Leave A Reply

Your email address will not be published.