सैनिक स्कूलों में लड़कियों को भी दाखिला देने का फैसला

0 0

नईदिल्ली|  केंद्र सरकार ने 10 मार्च को एकेडमिक ईयर 2021-22 से देश भर के सभी सैनिक स्कूलों में लड़कियों को भी दाखिला   देने का फैसला किया है।

बता दें वर्तमान में कुल 33 सैनिक स्कूल हैं, जिनमें अब तक सिर्फ लड़के एडमिशन ले सकते हैं। लेकिन अब इस शैक्षणिक सत्र से लड़कियां भी सैनिक स्‍कूल में एडमिशन ले सकेंगी। इन स्कूलों को सैनिक स्कूल सोसायटी द्वारा चलाया जाता है, जो रक्षा मंत्रालय के प्रशासनिक नियंत्रण में हैं। सैनिक स्कूलों की स्थापना का मकसद स्टूडेंट्स को कम उम्र से भारतीय सशस्त्र बलों में प्रवेश के लिए तैयार करना है।

रक्षा राज्‍य मंत्री श्रीपद नाइक ने लोकसभा में कहा कि, “सैनिक स्कूल छंगछी, मिजोरम में एकेडमिक ईयर 2018-19 में गर्ल्‍स कैडेट के एडमिशन के पायलट प्रोजेक्ट की सफलता के बाद, अब सरकार ने इस नए शैक्षणिक सत्र 2021-22 से सभी सैनिक स्कूलों में लड़कों के साथ ही लड़कियों को भी एडमिशन देने का फैसला किया है।

राज्‍यमंत्री ने यह भी कहा कि सरकार गैर-सरकारी संगठनों, प्राइवेट स्कूलों और राज्य सरकारों की साझेदारी में देश में सैनिक स्कूलों की स्थापना के लिए एक नई योजना लाने का प्रस्ताव कर रही है।

सैनिक स्कूल राज्य सरकारों से विशिष्ट अनुरोध प्राप्त होने पर स्थापित किए जाते हैं। इससे पहले, सिर्फ लड़कों को सैनिक स्कूलों में एडमिशन दिया जाता था। राज्‍य मंत्री ने लोकसभा में लिखित जवाब में जानकारी दी कि अगले एकेडमिक सेशन से लड़कियां भी सभी सैनिक स्‍कूलों में एडमिशन ले सकेंगी।

Leave A Reply

Your email address will not be published.