19 दवा फर्मों पर 50 लाख जुर्माना – सिंहदेव

0 20

रायपुर| सीजीएमएससी द्वारा आमंत्रित टेंडर में अनुबंध का पालन नहीं करने पर 19 दवा फर्मों पर कार्रवाई की गई है। इनसे 50 लाख रुपये की वसूली की गई है। स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव ने नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक के एक सवाल के जवाब में कही|

 सदन में नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक ने कोरोना काल में दवा की सप्लाई में अनियमितता को लेकर सवाल किया था ।

इस पर जवाब देते टीएस सिंहदेव ने बताया कि सीजीएमएससी द्वारा आमंत्रित टेंडर में अनुबंध का पालन नहीं करने पर 19 दवा फर्मों पर कार्रवाई की गई है। इनसे 50 लाख रुपये की वसूली की गई है।

इन दवा फर्मों में अल्पा लेबोरेटरीज, अल्वेश हेल्थ केयर, एएनजी लाइफ साइंसेज, ओत्सुका फार्मास्युटिकल, गल्फा लेबोरेट्रीज, ग्लेनमार्क, ग्लेशियर फार्मा, नंज मेड साइंस फार्मा, माइक्रोन फार्मा, मान फार्मा, मेडिको रेमेडीज, यूनिमार्क हेल्थकेयर, यूनिक्योर इंडिया, वर्धमान एक्सपोर्ट, सिंडिकेट फार्मा, सिप्ला, सिरान ड्रग, सीएमजी बायोटेक और मोडिपोल फार्मा है।

विधायक नारायण चंदेल द्वारा  कोरोना काल में कालेजों में हुई खरीदी  के सवाल पर मंत्री उमेश पटेल ने कहा कि प्राचार्य की शिकायत मिली है। इसकी जांच चल रही है। नारायण चंदेल ने कहा कि कालेज में पढ़ाई बंद है, लेकिन खरीदी जारी है। मंत्री ने कहा कि खरीदी के लिए समिति की अनुशंसा की गई है। निर्माण मद में कोई भी राशि का आवंटन नहीं किया गया है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.