संसद: लोकसभा में हंगामा ,विपक्ष ने सरकार के खिलाफ खोला मोर्चा

आज सोमवार से संसद का शीतकालीन सत्र दोनों सदनों में शुरू हो गया । इधर लोकसभा की कार्यवाही विपक्षी सांसदों की नारेबाजी के चलते 12 बजे तक के लिए स्थगित कर दी गई | संसद के दोनों सदनों में विपक्ष ने सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल  दिया है| 

0 8

नई दिल्ली |  आज सोमवार से संसद का शीतकालीन सत्र दोनों सदनों में शुरू हो गया । इधर लोकसभा की कार्यवाही  शुरू होते ही विपक्षी सांसदों की नारेबाजी के चलते  सदन 12 बजे तक के लिए स्थगित कर दी गई | संसद के दोनों सदनों में विपक्ष ने सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल  दिया है|

इसके पहले  कृषि कानूनों को रद्द करने की मांग को लेकर कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ने नेतृत्व में पार्टी के सांसदों ने संसद में महात्मा गांधी की प्रतिमा के पास विरोध प्रदर्शन किया।

बता दें सरकार आज  तीन कृषि कानूनों को निरस्त करने के संवैधानिक प्रावधानों को पूरा करने के लिए   लोकसभा में ‘द फार्म लॉ रिपील बिल, 2021’ पेश करेगी। कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर निचले सदन में इसे पेश करेंगे।

सदन शुरू होने से पहले पीएम नरेंद्र मोदी  ने कहा , सरकार हर विषय पर चर्चा करने के लिए तैयार है, खुली चर्चा के लिए तैयार है। सरकार हर सवाल का जवाब देने को तैयार है। संसद में सवाल भी हो और शांति भी हो। सरकार के खिलाफ जितनी आवाज बुलंद होनी चाहिए, हो लेकिन संसद की गरिमा का भी ध्यान रखा जाना चाहिए|

वहीँ संसद के दोनों सदनों में विपक्ष ने सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल  दिया है| कांग्रेस और अन्य पार्टियों के कई सांसदों ने अपने-अपने सदनों में नोटिस भेजा है। लोकसभा में कांग्रेस के फ्लोर लीडर अधीर रंजन चौधरी ने प्रश्नकाल स्थगित करने और एमएसपी मुद्दे पर चर्चा करने के लिए सदन में स्थगन नोटिस दिया है।

कांग्रेस सांसद मनीष तिवारी ने जान गंवाने वाले किसानों को मुआवजा देने की मांग को लेकर लोकसभा में स्थगन प्रस्ताव का नोटिस दिया है। ऐसा ही नोटिस मनिकम टैगोर ने राज्यसभा में भी दिया है।

- Advertisement -

भाकपा के बिनॉय विश्वम ने कृषि उपज के लिए न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) के लिए कानूनी गारंटी सुनिश्चित करने पर चर्चा की मांग करते हुए सदन में निलंबन का नोटिस दिया है।

आम आदमी पार्टी के संजय सिंह ने नियम 267 के तहत ‘किसानों के लिए न्यूनतम समर्थन मूल्य की कानूनी गारंटी पर चर्चा’ की मांग करते हुए बिजनेस नोटिस का निलंबन किया है।

तेलंगाना में फसल खरीद को लेकर टीआरएस सांसद के. केशव राव ने राज्यसभा में निलंबन नोटिस दिया है। उनका नोटिस ‘फसलों की खरीद न होने पर केंद्र सरकार की भेदभावपूर्ण फसल खरीद नीति’ पर चर्चा करने को लेकर है।

इसके पहले  कृषि कानूनों को रद्द करने की मांग को लेकर कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ने नेतृत्व में पार्टी के सांसदों ने संसद में महात्मा गांधी की प्रतिमा के पास विरोध प्रदर्शन किया।

Leave A Reply

Your email address will not be published.