कोरोना पर उच्च स्तरीय बैठक जारी, लॉकडाउन की सिफारिश

0 0

रायपुर| छत्तीसगढ़ में कोरोना संक्रमण की बढ़ती रफ्तार को रोकने के लिए अधिक सख्ती की तैयारी है।  केंद्र सरकार ने  छत्तीसगढ़ में बढ़ रहे कोरोना को लेकर एक रिपोर्ट जारी की है। इस रिपोर्ट के मुताबिक छत्तीसगढ़ देश का ऐसा दूसरा राज्य है जहां 24 घंटे में सबसे अधिक मरीज मिले। शनिवार रात तक की स्थिति में छत्तीसगढ़ से 3162 मरीज मिले थे।

इधर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की अध्यक्षता में मंत्रियों और अफसरों की एक उच्च स्तरीय बैठक सीएम  हाउस में चल रही है। इसमें अधिक संक्रमित जिलों के कलेक्टर और व्यापारिक संगठनों के प्रतिनिधि भी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए जुड़ रहे हैं।

इधर कांग्रेस के राष्ट्रीय सचिव और सरकार में संसदीय सचिव विकास उपाध्याय ने लॉकडाउन लगाने का आग्रह किया है।  विकास उपाध्याय ने कहा, हमें पुराने अनुभवों से सीखना चाहिए और समारोहों में जाकर सुपर स्प्रेडर बनने से बचना चाहिए पर ये सब हो नहीं रहा है।

कोरोना वायरस के नए वैरिएंट्स भी सामने आ रहे हैं। हाल ही में डबल म्यूटेट वायरस भी मिला है। ये नए वैरिएंट्स ज़्यादा संक्रामक हैं।

बता दें केंद्र सरकार ने भी छत्तीसगढ़ में बढ़ रहे कोरोना को लेकर एक रिपोर्ट जारी की है। इस रिपोर्ट के मुताबिक छत्तीसगढ़ देश का ऐसा दूसरा राज्य है जहां 24 घंटे में सबसे अधिक मरीज मिले। शनिवार रात तक की स्थिति में छत्तीसगढ़ से 3162 मरीज मिले थे।

महाराष्ट्र देश में नंबर वन है, शनिवार को इस राज्य से 35726 मरीज एक दिन में मिले। तीसरे नंबर पर कर्नाटक है, जहां 2886 मरीज मिले।

20 मार्च को छत्तीसगढ़ में 10 लोगों की मौत हुई थी। तब राज्य में पिछले एक साल में हुई मौत का आंकड़ा 3940 था। 7 दिन बाद अब यानी 27 मार्च की ताजा स्थिति में 24 घंटे में 11 लोगों की मौत दर्ज की गई। इन 7 दिनों में हर दिन हुई मौत को देखें तो 121 कोरोना संक्रमितों की जान गई। इस वजह से अब तक हुई कुल मौत का आंकड़ा 3940 से बढ़कर 4061 हो चुका है।

बता दें राजधानी रायपुर और दुर्ग में पिछले 6 दिन में 200 से अधिक केसों में संक्रमण की चेन बनी है। कई परिवार ऐसे हैं जहां दो नहीं, चार और पांच से अधिक सदस्य संक्रमित हुए हैं। डाक्टरों के अनुसार बीमार होने के बावजूद लोग टेस्ट तक नहीं करवा रहे हैं। ये लापरवाही उनके ही घर वालों के लिए भारी पड़ रही है।

 राजधानी के श्यामनगर इलाके में एक परिवार के 9 से ज्यादा सदस्य कोरोना इलाज के लिए अस्पताल और केयर सेंटर में भर्ती करवाए गए हैं। इस परिवार में एक सदस्य की कोरोना से मृत्यु भी हो गई है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.