1.68 लाख नए मामले, फिर दूसरे नंबर पर पहुंचा भारत

भारत वायरस से सबसे बुरी तरह से प्रभावित देशों की सूची में फिर से दूसरे नंबर पर आ गया है

0 0

नई दिल्ली|  1.68 लाख  नए मामले पिछले 24 घंटों में दर्ज होने के बाद भारत वायरस से सबसे बुरी तरह से प्रभावित देशों की सूची में फिर से दूसरे नंबर पर आ गया है।

1.68 लाख  नए मामले दर्ज होने के बाद अब तक मामलों की कुल संख्या बढ़कर 1,35,27,717 हो गई है। इस दौरान 904 लोगों की मौतें हुई हैं|

स्वास्थ्य  मंत्रालय ने यहां सोमवार को बताया कि 1.68 लाख  नए मामले दर्ज होने के बाद  अमेरिका के बाद वायरस से सबसे बुरी तरह से प्रभावित देशों की सूची में भारत फिर से दूसरे नंबर पर आ गया है।

इस इस दौरान 904 लोगों की मौतें हुई हैं और इसी के साथ देश में अब तक मरने वालों की संख्या 1,70,179 हो गई है।

वहीँ सक्रिय मामलों की संख्या बढ़कर 12,01,009 हो गई है और इस मामले में भारत दुनिया में चौथे नंबर पर पहुंच गया है।

बीते 24 घंटे में 75,086 लोग वायरस से रिकवर हुए हैं, जिन्हें शामिल करते हुए अब तक वायरस को मात दे चुके मरीजों की संख्या 1,21,56,529 हो गई है। देश में इस वक्त रिकवरी दर 90.44 फीसदी पर बनी हुई है।

स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा है कि बीते 24 घंटे में 11,80,136 नमूनों की जांच कर ली गई है और इसके साथ ही अब तक कुल मिलाकर 25,78,06,986 नमूनों की जांच की जा चुकी है।
महाराष्ट्र, छत्तीसगढ़, उत्तरप्रदेश, दिल्ली, कर्नाटक, तमिलनाड़ु, केरल, मध्य प्रदेश, गुजरात और राजस्थान जैसे राज्यों में इस वक्त मामलों की अधिकता देखी जा रही है।

छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh)  में  कोरोना संक्रमितों की संख्या 10521 रही। स्वास्थ्य विभाग की ओर से रविवार रात जारी मेडिकल बुलटिन के अनुसार कोविड और अन्य बीमारियों से मरने वालों की संख्या 82 रहीं।

कोविड सेंटर और होमआइसोलेशन से स्वास्थ्य होने वालों की संख्या 5707 रही। प्रदेश में कुल सक्रिय मामलों की संख्या 90277 दर्ज की गईं। राजधानी रायपुर से 2833 नए कोरोना संक्रमितों की पहचान हुई है। दुर्ग से 1650 नए पॉजिटिव मिले हैं।

छत्तीसगढ़ में कोरोना वायरस संक्रमण का ग्राफ थमने का नाम नहीं ले रहा है। अब तक 4 लाख से ज्यादा लोग संक्रमित हो चुके हैं। आज 10521 नए मरीज मिलने की पुष्टि हुई है।

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कोविड-19 के खिलाफ लड़ाई में एक प्रमुख एंटी-वायरल इंजेक्शन रेमडेसिविर की सुचारु आपूर्ति सुनिश्चित करने के लिए वरिष्ठ अधिकारियों को हैदराबाद और महाराष्ट्र भेजने के निर्देश जारी किए हैं।

राज्य सरकार ने हवाईअड्डों और रेलवे स्टेशनों पर 72 घंटे के भीतर प्राप्त आरटी-पीसीआर नेगेटिव रिपोर्ट अनिवार्य कर दी है, जबकि नेगेटिव रिपोर्ट के बिना पहुंचने वालों की जांच की जाएगी और उन्हें आइसोलेशन में रखने के साथ ही क्वारंटीन सेंटर भी भेजा जाएगा। राज्य में जारी की गई नई एसओपी में यह बात कही गई है।

बघेल ने कहा कि इस बार गांवों में भी संक्रमण फैल रहा है, इसलिए इसे रोकने के लिए राज्य के बाहर से आने वालों की जांच करना आवश्यक है। यही वजह है कि राज्य सरकार द्वारा गांवों में क्वारंटीन सेंटर्स स्थापित करने के निर्देश भी दिए गए हैं।

उन्होंने मुख्य सचिव को निर्देश दिया है कि राज्य में रेमडेसिविर इंजेक्शन की आपूर्ति सुचारू रूप से की जाए और इस दवा का निर्माण करने वाली कंपनियों के साथ समन्वय के लिए वरिष्ठ अधिकारियों को हैदराबाद और महाराष्ट्र भेजा जाए।

मुख्यमंत्री ने ड्रग एसोसिएशन के अध्यक्ष के साथ इस मुद्दे पर चर्चा की और उन्हें अन्य राज्यों से रेमडेसिविर इंजेक्शन की आपूर्ति बढ़ाने के लिए कहा।

मुख्यमंत्री ने कहा कि छत्तीसगढ़ में कोविड-19 रोगियों की बढ़ती संख्या चिंताजनक है और उन्होंने निजी अस्पतालों के संचालकों से कहा है कि वे कोरोना रोगियों को सर्वोत्तम उपचार प्रदान करें।

मुख्यमंत्री ने कहा कि परीक्षण के मामले में छत्तीसगढ़ कई राज्यों से आगे है। राज्य में हर दिन 40 से 50 हजार टेस्ट किए जा रहे हैं। छत्तीसगढ़ सबसे ज्यादा टीके लगाने वाला राज्य भी है। अब तक यहां की 13 फीसदी आबादी को वैक्सीन की पहली खुराक दी गई है।

 

Leave A Reply

Your email address will not be published.