12 से 18 साल के बच्चों के लिए बनी कैडिला वैक्सीन को जल्द मिल सकती है आपात प्रयोग की मंजूरी

जायडस कैडिला की कोरोना वैक्सीन को जल्द आपात इस्तेमाल की मंजूरी मिल सकती है। अगर इसे मंजूरी मिल गई तो यह भारत में इस्तेमाल की जाने वाली छठी कोरोना वैक्सीन होगी।

0 21

- Advertisement -

नई दिल्ली । जायडस कैडिला की कोरोना वैक्सीन को जल्द आपात इस्तेमाल की मंजूरी मिल सकती है। अगर इसे मंजूरी मिल गई तो यह भारत में इस्तेमाल की जाने वाली छठी कोरोना वैक्सीन होगी।

जायडस कैडिला की वैक्सीन 12 साल से 18 साल तक के बच्चों के लिहाज से तैयार की गई है। अगर इसे मंजूरी मिल जाती है, तो 12 से 18 साल के बीच वाले बच्चों के लिए यह पहली कोरोना वैक्सीन होगी।

अहमदाबाद की कंपनी जायडस कैडिला ने दुनिया की पहली डीएनए आधारित कोविड वैक्सीन बनाई है। ट्रायल में इसकी सफलता का प्रतिशत 77 फीसदी पाया गया है।

- Advertisement -

भारत में अब तक कुल 5 वैक्सीन को मंजूरी मिल चुकी है, जिनमें से तीन कोविशील्ड, कोवैक्सीन और स्पुतनिक-वी का इस्तेमाल देश में किया जा रहा है। जबकि मॉडर्ना, जॉनसन एंड जॉनसन (सिंगल डोज़) की वैक्सीन को भी मंजूरी मिल चुकी है।

मंजूरी मिली तो जायडस कैडिला की वैक्सीन देश की छठी वैक्सीन होगी।

उल्लेखनीय है कि भारत में अब तक 50 करोड़ से अधिक वैक्सीन की डोज़ लग चुकी हैं। भारत सरकार का लक्ष्य है कि दिसंबर, 2021 तक सभी व्यस्कों को वैक्सीन की कम से कम एक डोज़ लगा दी जाई।

उम्मीद जताई जा रही है कि सितंबर तक देश में हर दिन एक करोड़ वैक्सीन लगाई जा सकती हैं।

Leave A Reply

Your email address will not be published.