ब्रिटेन में लेबर पार्टी की चौदह साल बाद सत्ता में वापसी, कीर स्टार्मर ब्रिटेन के 58 वें प्रधानमंत्री

ब्रिटेन में लेबर पार्टी चौदह साल बाद सत्ता में वापसी की है. भारतीय मूल के पहले ब्रिटिश प्रधान मंत्री श्री सुनक ने सत्तारूढ़ कंजर्वेटिव पार्टी की हार स्वीकार करते लेबर नेता कीर स्टार्मर को बधाई दी. कीर स्टार्मर ब्रिटेन के 58 वें प्रधान मंत्री बन गए हैं. 650 सदस्यीय ब्रिटिश संसद में लेबर पार्टी ने 412 सीटें जीत ली हैं. वर्ष 2019 के आम चुनाव में लेबर पार्टी को 202 सीटें मिली थीं.

0 18

- Advertisement -

ब्रिटेन में लेबर पार्टी चौदह साल बाद सत्ता में वापसी की है. भारतीय मूल के पहले ब्रिटिश प्रधान मंत्री श्री सुनक ने सत्तारूढ़ कंजर्वेटिव पार्टी की हार स्वीकार करते लेबर नेता कीर स्टार्मर को बधाई दी. कीर स्टार्मर ब्रिटेन के 58 वें प्रधान मंत्री बन गए हैं. 650 सदस्यीय ब्रिटिश संसद में लेबर पार्टी ने 412 सीटें जीत ली हैं. वर्ष 2019 के आम चुनाव में लेबर पार्टी को 202 सीटें मिली थीं.

कंजर्वेटिव पार्टी जो 2010 से लगातार देश पर शासन कर रही है, 120 सीटों पर सिमट गई. उसे  पांच साल पहले जीती गई 242 सीटों का नुकसान हुआ है.

- Advertisement -

मीडिया  रिपोर्ट के मुताबिक लेबरल डेमोक्रेट्स ने 61 सीटों की प्रभावशाली बढ़त के साथ 69 सीटों पर पोल पोजिशन हासिल की. स्कॉटिश व्यनल पार्टी और सिन फेन ने क्रमशः आठ और सात सीटों पर जीत हासिल की. दक्षिणपंथी रिफॉर्म यूके ने चार सीटें जीतीं.  22 सीटें निर्दलीय और अन्य दलों के खाते में गई है. हालॉकि श्री सुनक अपने रिचमंड और नॉर्थहेलर्टन निर्वाचन क्षेत्र पर कब्जा करने में कामयाब रहे, लेकिन कई कंजर्वेटिव दिग्गजों को धूल चाटनी पड़ी.

हाई-प्रोफाइल कंजर्वेटिव जो अपनी सीटें हार गए, उनमें पूर्व प्रधान मंत्री लिज़ ट्स, मौजूदा रक्षा सचिव ग्रांट शाप्स, कब रीस-मोग और पेनी मोडौंट शामिल हैं. इस बीच सुधारवादी ब्रिटेन के नेता निगेल फराज अपने आठवें प्रयास में पहली बार सांसद बने.

वर्ष 2020 से लेबर पार्टी के नेता के रूप में काम कर रहे “प्रसन्नचित” स्टार्मर ने कहा, “हमने यह किया… बदलाव अब सुरू होता है।

 

 

Leave A Reply

Your email address will not be published.