साइबर जालसाज ने रिश्तेदार बनकर ठग लिया एक लाख

मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल के मिसरोद थाना इलाके मे एक व्यक्ति को शातिर जालसाज ने रिश्तेदार बनकर एक मैसेज किया और लिंक में दिए गए बार कोड को स्कैन करने कहकर एक लाख रुपए की चपत लगा दी।

0 48

- Advertisement -

भोपाल | मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल के मिसरोद थाना इलाके मे एक व्यक्ति को शातिर जालसाज ने रिश्तेदार बनकर एक मैसेज किया और लिंक में दिए गए बार कोड को स्कैन करने कहकर एक लाख रुपए की चपत लगा दी।

इसी तरह मैनिट परिसर में रहने वाले एक व्यक्ति के साथ भी जालसाजो द्वारा मोबाइल नंबर बंद होने का झांसा देकर उसके एकांउट से 45 हजार रुपए निकाल लिए हैं।

मामले की जानकारी देते हुए सायबर क्राइम पुलिस अधिकारियो ने बताया कि भरत शर्मा ग्राम मक्सी में रहते हैं। अपनी शिकायत मे उन्होने बताया कि बीती 25 फरवरी 2021 को उनके मोबाइल पर एक जालसाज का फोन आया उसने खुद को उनका रिश्तेदार बताते हुए बातचीत की और मोबाइल पर एक लिंक भेजकर उसे स्कैन करने को कहा।

उसकी बातो मे आकर भरत शर्मा ने जैसे ही लिंक में दिए गए बारकोड को स्कैन किया तो जालसाज ने फोन काट दिया। इसके कुछ देर बाद फरियादी ने देखा तो उसके मोबाइल पर बैंक खाते से एक लाख रुपए कटने के कई मैसेज आए हुए थे।

- Advertisement -

शर्मा ने घटना की शिकायत साइबर सेल में की थी। जांच के बाद साइबर सेल ने क्राइम ब्रांच थाने में धोखाधड़ी का प्रकरण दर्ज कर किया है।

इसी तरह मैनिट परिसर में रहने वाले अखिलेश पिता अचल सिंह ने अपनी शिकायत मे पुलिस को बताया कि उसके फोन पर बीती 2 जनवरी 2021 को एक जालसाज ने फोन कर खुद को मोबाइल कंपनी का अधिकारी बताते हुए कहा कि आपका मोबाइल नंबर रिचार्ज नहीं है।

रिचार्ज नहीं करने पर आपका मोबाइल नंबर बंद हो जाएगा और यह नंबर किसी और को दे दिया जाएगा। अपने जाल मे अखिलेश को फंसाकर शातिर ने मोबाइल रिचार्ज के नाम पर मोबाइल पर आए ओटीपी बताने को कहा।

फरियादी ने जैसे ही ओटीपी बताया उसके खाते से 45 हजार हमार कट गए। शिकायत की जॉच के बाद पुलिस अज्ञात आरोपी के खिलाफ मामला दर्जकर मोबाईल नंबर के आधार पर उसकी सुरागशी के प्रयास कर रही है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.