झारखण्ड: 3 लाख रुपये में नाबालिग बच्ची का सौदा, सीडब्ल्यूसी और पुलिस ने बिकने से बचाया

झारखण्ड में शादी के नाम पर अपने ही एक नाबालिग बच्ची का तीन लाख रुपये में सौदा कर रहे थे। हालांकि सीडब्ल्यूसी और पुलिस की तत्परता से बच्ची बिकने से बच गई। मामला गढ़वा जिले के खरौधी थाना क्षेत्र के लामी सरहिया का है।

0 137

- Advertisement -

desh digital

रांची| झारखण्ड में शादी के नाम पर अपने ही एक नाबालिग बच्ची का तीन लाख रुपये में सौदा कर रहे थे। हालांकि सीडब्ल्यूसी और पुलिस की तत्परता से बच्ची बिकने से बच गई। मामला गढ़वा जिले के खरौधी थाना क्षेत्र के लामी सरहिया का है।

- Advertisement -

बताया जाता है कि गांव की एक नाबालिग लड़की की उसके माता-पिता और अन्य परिजन जबरन शादी करा रहे थे। लड़की की दीदी को इसकी जानकारी हुई तो उसने तत्काल बाल कल्याण समिति को इसकी जानकारी दी। उसने अपनी शिकायत में बताया कि शादी के नाम पर उसकी छोटी बहन का तीन लाख रुपए में सौदा हुआ है। महिला ने यह भी जानकारी दी कि पैसे लेकर उसकी बहन की शादी मध्य प्रदेश के टीकमगढ़ जिले के देवरदा गांव में कराई जा रही है।

इस शिकायत पर गढ़वा के सीडब्ल्यूसी अध्यक्ष उपेंद्रनाथ दूबे ने तत्काल एसडीपीओ को सूचना देकर नाबालिग की शादी रुकवाने को कहा। इसके बाद  एसडीपीओ और थाना प्रभारी राहुल कुमार मिश्रा ने कार्रवाई करते हुए बच्ची को अपनी संरक्षण में ले लिया। थाना प्रभारी ने बताया कि ग्रामीण महिला पुलिस के साथ नाबालिग लड़की को थाना लाया गया है। उन्होंने बताया कि घरवाले नाबालिग की सोमवार को शादी करनेवाले थे। इस सूचना के मद्देनजर पुलिस ने लड़की को अपनी सुरक्षा में ले लिया है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.