टीएमसी में कलह, पार्टी के एक विधायक ने तृणमूल के एक अन्य विधायक को ‘हड्डियां तोड़ने’ की दी धमकी

| पश्चिम बंगाल के मुर्शिदाबाद जिले में तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) में कलह शुक्रवार को उस समय खुलकर सामने आ गई जब पार्टी के एक विधायक ने तृणमूल के एक अन्य विधायक को कथित तौर पर ‘हड्डियां तोड़ने’ की धमकी दे दी। टेलीविजन चैनलों द्वारा दिखाए गए वीडियो में भरतपुर से तृणमूल कांग्रेस के विधायक हुमायूं कबीर पार्टी के एक कार्यक्रम में यह धमकी देते दिखे। वह जिले के वरिष्ठ नेता हैं और पूर्व में कांग्रेस में भी रह चुके हैं।

0 39

- Advertisement -

deshdigital

कोलकाता| पश्चिम बंगाल के मुर्शिदाबाद जिले में तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) में कलह शुक्रवार को उस समय खुलकर सामने आ गई जब पार्टी के एक विधायक ने तृणमूल के एक अन्य विधायक को कथित तौर पर ‘हड्डियां तोड़ने’ की धमकी दे दी। टेलीविजन चैनलों द्वारा दिखाए गए वीडियो में भरतपुर से तृणमूल कांग्रेस के विधायक हुमायूं कबीर पार्टी के एक कार्यक्रम में यह धमकी देते दिखे। वह जिले के वरिष्ठ नेता हैं और पूर्व में कांग्रेस में भी रह चुके हैं।

- Advertisement -

कबीर ने कार्यक्रम में कहा, रेजीनगर विधायक रबीउल आलम चौधरी बहुत घमंडी हो गए हैं।अगर आप मेरे रास्ते में आने की कोशिश करेंगे तो मैं आपको सबक़ सिखाऊंगा, मैं आपकी हड्डियां तोड़ दूंगा।

कबीर की टिप्पणियों पर प्रतिक्रिया देते हुए तृणमूल कांग्रेस के महासचिव व राज्य के उद्योग मंत्री पार्थ चटर्जी ने कहा कि भरतपुर के विधायक को कारण बताओ नोटिस जारी किया गया है। हालांकि इस मामले पर पूछे गए सवाल पर चौधरी ने कहा, मैंने शीर्ष नेतृत्व को इसकी जानकारी दे दी है, अब वे ही निर्णय करेंगे।
दूसरी ओर, राज्य में मुख्य विपक्षी भाजपा ने इस घटना को लेकर सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस पर निशाना साधा है। प्रदेश भाजपा के उपाध्यक्ष जयप्रकाश मजूमदार ने कहा कि तृणमूल में यह कोई नई बात नहीं है। तृणमूल हिंसा की संस्कृति में विश्वास करती है, इसीलिए एक विधायक, दूसरे विधायक की हड्डी तोड़ने की बात कर रहे हैं। उन्होंने इसकी कड़ी भर्त्सना की। ‌

बता दें  कि राज्य के कई जिलों में तृणमूल के अंदर गुटबाजी की खबरें सामने आती रहती हैं। पार्टी सुप्रीमो व मुख्यमंत्री ममता बनर्जी कई बार इसको लेकर चेतावनी भी दे चुकी हैं, बावजूद इसके गुटबाजी थम नहीं रही है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.