निकाय चुनावों में चला cross voting का खेल

छत्तीसगढ़ के निकाय चुनावों  में  cross voting  का खेल चला और कई जगह बाजी पलट गई | भाजपा-कांग्रेस दोनों ओर से cross voting हुई  पर नुकसान भाजपा को  ज्यादा पहुंचा |

0 24

- Advertisement -

छत्तीसगढ़ के निकाय चुनावों  में  cross voting  का खेल चला और कई जगह बाजी पलट गई | भाजपा-कांग्रेस दोनों ओर से cross voting हुई  पर नुकसान भाजपा को  ज्यादा पहुंचा |

छत्तीसगढ़ के 15 निकायों में हुए चुनावों में भाजपा-कांग्रेस दोनों दलों में अनुशासनहीनता सामने आई | आधा दर्जन निकायों में cross voting क्रॉस वोटिंग ने दोनों दलों की पोल खोल दी है कि अपने लाभ के लिए पार्टी से हटकर कदम उठाने में कोई नहीं हिचका |

नगरीय निकाय चुनावों में क्रॉस वोटिंग ने BJP को खासा नुकसान पहुँचा है | मुंगेली , रिसाली, भिलाई , जामुल में जहाँ भाजपा को cross voting  क्रॉस वोटिंग ने नुकसान पहुंचाया वहीँ प्रदेश के सबसे चर्चित बैकुन्ठपुर में कांग्रेस को मुंह की कहानी पड़ी | इधर खैरागढ़ में भाजपा-कांग्रेस दोनों ओर से cross voting हुई |

जामुल नगर पालिका में हुए चुनाव में भाजपा के ईश्वर ठाकुर को अध्यक्ष चुना गया। बहुमत  होने के बाद भी उपाध्यक्ष की कुर्सी भाजपा के हाथ से फिसल  कांग्रेस की झोली में चली गई | कांग्रेस की सुनीता चेन्नेवार ने उपाध्यक्ष की कुर्सी हासिल की । यहाँ भाजपा में चल रही गुटबाजी का फायदा कांग्रेस को मिला। cross voting क्रॉस वोटिंग के चलते भाजपा का एक वोट विपक्षी दल में खिसक गया।

20 वार्डों वाली इस नगर पालिका में 10 पर भाजपा ने जीत दर्ज की है। जबकि कांग्रेस के 5, जोगी कांग्रेस का एक और 4 निर्दलीय पार्षद हैं।

जहाँ ईश्वर ठाकुर को 12 वोट मिले जबकि उनकी प्रतिद्वंदी कांग्रेस उम्मीदवार सरोजनी चंद्राकर को 8 वोट मिले। वहीं उपाध्यक्ष पर जीत दर्ज करने वाली सुनीता को 11 वोट मिले हैं। भाजपा प्रत्याशी सीमा यादव को महज 9 वोट से संतोष करना पड़ा।

यहां दो निर्दलीय के समर्थन के साथ भाजपा पूर्ण बहुमत में थी, लेकिन अध्यक्ष पद की खींचतान में पहले से ही दो गुटों में भी बंट गई|  इसका फायदा कांग्रेस  ने उठाया |  एक निर्दलीय सहित 6 पार्षद वाले कांग्रेस  की रणनीति काम कर गई और उपाध्यक्ष का पद हासिल कर लिया।

यह भी पढ़ें :बसना विधान सभा: रूपकुमारी चौधरी के लिए सम्पत एक चुनौती !

मुंगेली नगर पालिका :

यहाँ के 22 वार्डों में भाजपा के 11, कांग्रेस  के 9 और 2 निर्दलीय को जीत हासिल हुई | दोनों निर्दलीय भाजपा-कांग्रेस में बाँट गये | cross voting  क्रॉस वोटिंग के चलते बहुमत में होते हुए भी भाजपा को हर का सामना करना पड़ा | कांग्रेस के हेमेन्द्र गोस्वामी 13 वोट पाकर अध्यक्ष की कुर्सी पर काबिज हो गये |

- Advertisement -

रिसाली नगर निगम:

40 वार्डों में  कांग्रेस को 21 सीटें मिलीं ,भाजपा को 12 सीटें मिली , 6 निर्दलियों ने कांग्रेस को समर्थन दिया | अध्यक्ष चुनाव में भाजपा के रमा साहू को महज 9 वोट मिले यानि यहाँ भाजपा के पार्षदों ने cross voting  क्रॉस वोटिंग की |

भिलाई  नगर निगम:

70 वार्डों के भिलाई  नगर निगम में भाजपा के महापौर और सभापति प्रत्याशियों महेश वर्मा और श्यामसुंदर राव को 22-22 वोट मिले यहाँ भाजपा के 2 पार्षदों ने cross voting  क्रॉस वोटिंग की|

बैकुन्ठपुर नगर पालिका:

22 वार्डों में कांग्रेस ने 11 पर , भाजपा ने 7 पर और 2 पर निर्दलीय काबिज रहे | कांग्रेस के पार्षद ने cross voting   क्रॉस वोटिंग की और भाजपा की नविता शिवहरे अध्यक्ष चुनी गई |

खैरागढ़ नगर पालिका :

कांग्रेस-भाजपा दोनों को 10-10 सीटें मिलीं | दोनों दलों से क्रॉस वोटिंग की गई | बाद में लाटरी के जरिये फैसला हुआ | कांग्रेस के शैलेन्द्र वर्मा ने जीत हासिल की |

इसी बीच त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव शुरू हो गये हैं |   3 जनवरी को नाम निर्देशन पत्र दाखिल करने की अंतिम दिन विभिन्न जिलों में 3166 नामांकन दाखिल किये गये | एक चरण में 28 जिलों की 1576 ग्राम पंचायतों, 03 जिला पंचायत सदस्यों, 30 जनपद सदस्यों, 235 सरपंच पदों और 1807 पंच पदों के लिए उपचुनाव हो रहे हैं |

बहरहाल , आने वाले दिनों में इन शहरों की  सत्ता  कितनी मजबूत रह पायेगी आने वाला वक्त बयातेगा | असंतोष को हवा लगते देर नहीं लगती और बाजी इसी तरह पलटते जाते हैं |

 

( deshdesk )

 

Leave A Reply

Your email address will not be published.