जिला प्रशासन की सख्ती, नियमों का उल्लंघन करना पड़ा भारी

पुलिस ने वसूला 60 हजार से ज्यादा का जुर्माना

0 0

पटना| लॉकडाउन के पहले दिन नियम का उल्लंघन करने वालों को सबक सिखाने के लिए जिला प्रशासन के अधिकारी सड़क पर उतरे और पूरे दिन जिले के शहरी और ग्रामीण इलाके में भ्रमण कर स्थिति का जायजा लिया। डीएम नवीन कुमार और एसपी दीपक रंजन के नेतृत्व में एसडीएम निखिल धनराज, एसडीपीओ अशोक कुमार पांडेय एवं अन्य अधिकारी सड़कों पर लॉकडाउन का जायजा लेने उतरे थे।

अधिकारियों की टीम ने घूम-घूमकर वाहन सवारों को रोका और उनसे सड़क पर घूमने का कारण जाना। जो अत्यंत जरूरी काम से जा रहे थे उन्हें तो अधिकारियों ने छोड़ दिया लेकिन कई लोग चार पहिया और दोपहिया वाहनों पर सवार होकर 11 बजे के बाद भी सड़कों पर गाड़ियां दौड़ा रहे थे। उन्होंने घर से बाहर निकलने का माकूल जवाब नहीं दिया ऐसे लोगों से जुर्माने की राशि वसूल की गई।

प्राप्त खबर के अनुसार शहर में डीएम-एसपी के अलावा नगर थानाध्यक्ष रवि भूषण के नेतृत्व में वाहनों की जांच की जा रही थी। टाउन थाना इंस्पेक्टर ने बताया कि गाइडलाइन के विरुद्ध सड़क पर निकले वाहन सवारों से करीब 15 हजार रुपये जुर्माने की वसूली की गई और आगे से उन्हें गलती नहीं दोहराने की चेतावनी भी दी गई।

डीएम और एसपी शहर के अलावा जिले के अन्य प्रखंडों के बाजारों में भी भ्रमण किया और कड़ाई से गाइडलाइन का पालन कराते दिखे। जिस प्रखंड में डीएम-एसपी जायजा ले रहे थे, वहां के बीडीओ, सीओ और थानाध्यक्ष भी साथ में थे। जहानाबाद-पटना रोड में कड़ौना के समीप ओपी प्रभारी अजीत कुमार के नेतृत्व में वाहनों की सघन जांच की गई, जिसमें ज्यादातर चार पहिया गाड़ियों पर सवार लोगों से जुर्माने के रूप में 13 हजार रुपये राजस्व की वसूली की गई।

मखदुमपुर थाने के द्वारा आठ हजार, टेहटा ओपी के द्वारा चार हजार, ओकरी ओपी प्रभारी चंद्रशेखर के द्वारा तीन हजार रुपये के अतिरिक्त शकूराबाद, परसविगहा, काको, घोसी, भेलावर और पाली थाने के पुलिस पदाधिकारियों के द्वारा भी सघन चेकिंग अभियान चला लॉकडाउन का उल्लंघन करने के आरोप में हजारों रुपए जुर्माने की वसूली की सूचना है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.