अपने CM को शुक्रिया कहना कि मैं बठिंडा एयरपोर्ट तक जिंदा पहुंच सका: PM

पंजाब के फिरोजपुर में  काफिले को रोक दिये जाने से   नाराज़ PM ने पंजाब के CM पर निशाना साधते  कहा, कि अपने सीएम को  शुक्रिया कहना कि मैं बठिंडा एयरपोर्ट तक जिंदा पहुंच सका|

0 95

- Advertisement -

चंडीगढ़। पंजाब के फिरोजपुर में  काफिले को रोक दिये जाने से   नाराज़ PM ने पंजाब के CM पर निशाना साधते  कहा, कि अपने सीएम को  शुक्रिया कहना कि मैं बठिंडा एयरपोर्ट तक जिंदा पहुंच सका|

 पंजाब के फिरोजपुर में किसानों ने PM की रैली के पहले  सड़क पर काफिले को रोक दिया|  PM का काफिला एक फ्लाई ओवर में करीब 15-20 मिनट तक रुका रहा।

न्यूज़ एजेंसी ANI के मुताबिक घटना से नाराज़ PM ने पंजाब के CM पर निशाना साधते हुए ये बात बठिंडा एयरपोर्ट पर अधिकारियों से कही कि अपने सीएम को  शुक्रिया कहना कि मैं बठिंडा एयरपोर्ट तक जिंदा पहुंच सका|

पंजाब में PM नरेंद्र मोदी की फिरोजपुर रैली रद्द होने की वजह सुरक्षा में चूक को बताया जा रहा है। गृह मंत्रालय ने पंजाब सरकार से इसकी रिपोर्ट तलब की है |

PM रैली रद्द होने के बाद जब  बठिंडा एयरपोर्ट लौटे  तो उन्होंने भी पंजाब की कांग्रेस सरकार पर तंज कसा। न्यूज एजेंसी ANI के मुताबिक, मोदी ने एयरपोर्ट के अधिकारियों से कहा- अपने मुख्यमंत्री को मेरा शुक्रिया कहना कि मैं बठिंडा एयरपोर्ट तक जिंदा पहुंच सका।

- Advertisement -

जहाँ किसानों ने दावा किया है कि रैली रद्द होने की वजह किसानों का विरोध और पंजाबियों में मोदी की अस्वीकार्यता है।  इसकी वजह से मोदी को अपना कार्यक्रम रद्द करना पड़ा। मोदी की रैली में भी बहुत कम लोग मौजूद थे। इनमें से ज्यादातर को तो जबरदस्ती रैली में भेजा गया था। पंजाबियों के निगेटिव रिस्पॉन्स की वजह से मोदी को अपना कार्यक्रम रद्द करना पड़ा।

वहीँ भाजपा ने कहा कि प्रधानमंत्री का कार्यक्रम रद्द होना कांग्रेस की साजिश है।

 भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा ने   रैली रद्द होने के बाद कई ट्वीट किए। लिखा- पंजाब की कांग्रेस सरकार विकास विरोधी है और उसे स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों की भी कद्र नहीं है। जो सबसे ज्यादा परेशानी वाली बात थी, वो थी प्रधानमंत्री की सुरक्षा में चूक का मसला। प्रदर्शनकारियों को पीएम के रूट में घुसने की इजाजत दी गई। जबकि पंजाब के मुख्य सचिव और डीजीपी ने SPG को भरोसा दिया था कि रास्ता सुरक्षित है।

PM मोदी बठिंडा उतरने के बाद खराब मौसम की वजह से 20 मिनट इंतजार करने के बाद वे सड़क के जरिए राष्ट्रीय शहीद स्मारक तक गए। इसमें उन्हें 2 घंटे से ज्यादा का वक्त लगना था।     शहीद स्मारक के 30 किलोमीटर पहले उनका काफिला एक फ्लाई ओवर पर पहुंचा, जहां प्रदर्शनकारियों ने रोड ब्लॉक कर दिया था । मोदी यहां पर 15-20 मिनट तक फंसे रहे। यह प्रधानमंत्री की सुरक्षा में बड़ी चूक है।

 किसान एकता मोर्चा ने कहा- हम यह स्पष्ट कर देना चाहते हैं कि मोदी की रैली रद्द होने की वजह किसानों और पंजाब के लोगों का भीषण विरोध है, जिन्होंने मोदी को अस्वीकार कर दिया है। इसकी वजह से मोदी को अपना कार्यक्रम रद्द करना पड़ा। मोदी की रैली में भी बहुत कम लोग मौजूद थे। इनमें से ज्यादातर को तो जबरदस्ती रैली में भेजा गया था। पंजाबियों के निगेटिव रिस्पॉन्स की वजह से मोदी को अपना कार्यक्रम रद्द करना पड़ा।

 

Leave A Reply

Your email address will not be published.