बारिश के कारण प्रदेश के कई इलाकों में बिगड़े हालात, राष्ट्रीय राजमार्ग पर भरा पानी

पिछले 72 घंटे से राज्य के कई इलाकों में बारिश लगातार जारी है। जिससे जनजीवन अस्त-व्यस्त है। कई इलाकों में तो भारी बारिश के कारण सड़कों से संपर्क कट गये है। बतादें कि बस्तर संभाग में हो रही बारिश से जनजीवन अस्त-व्यस्त है।

0 72

- Advertisement -

रायपुर। पिछले 72 घंटे से राज्य के कई इलाकों में बारिश लगातार जारी है। जिससे जनजीवन अस्त-व्यस्त है। कई इलाकों में तो भारी बारिश के कारण सड़कों से संपर्क कट गये है। बतादें कि बस्तर संभाग में हो रही बारिश से जनजीवन अस्त-व्यस्त है। जगदलपुर-रायपुर राष्ट्रीय राजमार्ग पर यहां से 30 किलोमीटर दूर सोनारपाल के पास मरकण्डी नदी में बाढ़ का पानी भरने से सड़क संपर्क कट गया है।

इधर, जगदलपुर में इंद्रावती नदी खतरे के निशान (8.3 मीटर) से करीब डेढ़ मीटर ऊपर बह रही है। मंगलवार सुबह आठ बजे यहां जलस्तर 9.89 मीटर तक पहुंच गया था। इसके कारण नगरनार क्षेत्र के नदी किनारे के गांव नदी बोड़ना, भेजापदर, बस्तर ब्लाक में बोदरा, भैसगांव पानी से घिर गए हैं। बीजापुर जिले में महाराष्ट्र और तेलंगाना को जोड़ने वाला राष्ट्रीय राजमार्ग सोमवार से है नदी-नालों में बाढ़ से बंद हैं।

- Advertisement -

साथ ही सुकमा जिले में राष्ट्रीय राजमार्ग 30 पर कोंटा-चेट्टी के बीच वीरापुरम, इंजरम, डुब्बाटोटा, सुकमा में थाना के पास सबरी नदी व उसके सहायक नालों का जलस्तर बढ़ने से पानी भर गया है। इस कारण जगदलपुर-सुकमा, सुकमा-कोंटा, कोंटा-चेट्टी का सड़क संपर्क कट गया है। आंध्रप्रदेश, तेलंगाना से संपर्क बाधित है।

सुकमा-मलकानगिरी के बीच झापरा के पास सड़क में पानी भरने ओडिशा का रास्ता भी बंद है। सैकडों वहां मार्ग में फंसे हुए है। सबरी नदी कोंटा में 13 मीटर के जलस्तर के करीब पहुंच गया है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.