ED ने जब्त की मानव तस्कर पन्नालाल की करोड़ों की संपत्ति

ED ने मानव तस्कर पन्नालाल की 3.36 करोड़ रुपये की संपत्ति जब्त की है| पन्नालाल महतो  पर 15 साल में झारखंड की 5000 लड़कियों का सौदा कर 80 करोड़ रुपये की संपत्ति अर्जित करने का  आरोप है|

0 26

- Advertisement -

रांची |  ED (प्रवर्तन निदेशालय)  ने मानव तस्कर पन्नालाल की 3.36 करोड़ रुपये की संपत्ति जब्त की है| पन्नालाल महतो  पर 15 साल में झारखंड की 5000 लड़कियों का सौदा कर 80 करोड़ रुपये की संपत्ति अर्जित करने का  आरोप है| पन्नालाल और उसकी पत्नी सुनीता देवी  के खिलाफ नेशनल इन्वेस्टिगेटिंग एजेंसी (NIA ) ने वर्ष 2020 में मामला दर्ज किया था।

जब्त संपत्ति में रांची और खूंटी में पन्नालाल व उसकी पत्नी सुनीता के नाम पर खरीदी गयी जमीन के अलावा दिल्ली, गुमला, खूंटी के बैंकों में खोले गये खातों में जमा राशि शामिल हैं| जब्त जमीन की कीमत 2.96 करोड़ रुपये है, जबकि जब्त बैंक खातों में 17.71 लाख रुपये मिले हैं. इडी ने खूंटी थाने से उसकी फॉर्च्यूनर भी जब्त कर ली है|

ED ने पन्नालाल व उसकी पत्नी सुनीता के नाम पर खरीदी गयी कुल 12.77 एकड़ जमीन जब्त कर ली है| पन्नालाल ने अरगोड़ा व झारखंड आवास बोर्ड में भी जमीन खरीद रखी है| जब्त अचल संपत्ति का मूल्य 2.96 करोड़ रुपये है|

- Advertisement -

अरगोड़ा में पन्नालाल के नाम पर खरीदी गयी 70 डिसमिल जमीन की कीमत 1.89 करोड़ रुपये है|  इस मानव तस्कर ने इस मानव तस्कर ने भगवान बिरसा मुंडा के नाम पर भी संस्था बना रखी है|

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक एक साल पहले ही ED ने मनी लौंड्रिंग एक्ट में केस दर्ज कर पन्ना लाल महतो के खिलाफ अनुसंधान शुरू किया था| NIA ने  फरवरी 2021 में पन्नालाल महतो के भाई शिव शंकर गंझू उर्फ शिव शंकर महतो उर्फ शंकर को भी गिरफ्तार किया था |  शिव शंकर गंझू दो प्लेसमेंट एजेंसी का संचालक था, जिनमें एक एजेंसी मेसर्स लक्ष्मी प्लेसमेंट सर्विस व दूसरी बिरसा सिक्यूरिटी एंड प्लेसमेंट एजेंसी है, जिसे पन्ना लाल महतो संचालित करता था|

पन्नालाल महतो  गरीब व वंचित लड़कियों को अपना शिकार बनाता था|  झारखंड, ओडि़शा के सुदूरवर्ती इलाकों की लड़कियों काे स्वयं व दलालों के माध्यम से मुंबई, पंजाब, हरियाणा, फरीदाबाद, नोएडा, गाजियाबाद, चंडीगढ़, जयपुर, लखनऊ, कानपुर, पटना, बंगलुरु, दिल्ली, हैदराबाद, गोवा व देश के बाहर भी घरेलू काम, बंधुआ मजदूरी, कारखाना में मजदूरी व देह व्यापार के लिए बेच देता था|

Leave A Reply

Your email address will not be published.