छत्तीसगढ़ : संभाग आयुक्त करेंगे हर माह दो तहसीलों का निरीक्षण, वकीलों से भी मिलेंगे

छत्तीसगढ़ के संभाग आयुक्त हर माह दो तहसीलों का अनिवार्य रूप से निरीक्षण करेंगे | सीएम भूपेश  बघेल ने राजस्व प्रकरणों के तेजी से निराकरण कराने के लिए  यह  निर्देश दिए हैं| इस दौरान वकीलों  एवं आम जनता से रूबरू होने भी कहा गया है |

0 138

- Advertisement -

रायपुर| छत्तीसगढ़ के संभाग आयुक्त हर माह दो तहसीलों का अनिवार्य रूप से निरीक्षण करेंगे | सीएम भूपेश  बघेल ने राजस्व प्रकरणों के तेजी से निराकरण कराने के लिए  यह  निर्देश दिए हैं| इस दौरान वकीलों  एवं आम जनता से रूबरू होने भी कहा गया है |

| सीएम श्री भूपेश बघेल ने प्रदेश के विभिन्न तहसीलों में राजस्व प्रकरणों के निराकरणों में हो रहे विलंब को गंभीरता से लिया है। उन्होंने राजस्व प्रकरणों के तेजी से निराकरण कराने के लिए सभी संभाग आयुक्तों को निर्देश दिए हैं।

मुख्यमंत्री श्री बघेल ने सभी संभागीय कमिश्नरों से कहा है कि वे तहसील कार्यालयों में आने वाले राजस्व प्रकरणों के निराकरण की सतत् रूप से मानीटरिंग करें और माह में कम से कम दो तहसीलों अथवा उप तहसीलों का अनिवार्य रूप से निरीक्षण करें।

- Advertisement -

निरीक्षण के दौरान वकीलों  एवं आम जनता से अवश्य रूप से भेंट भी करें, साथ ही उन्हें भेंट के लिए तय समय और तिथि के बारे में पूर्व में अवगत कराया जाए।

सीएम ने कहा है कि तहसील कार्यालय में प्रत्येक राजस्व प्रकरण पंजीबद्ध होना चाहिए। कोई भी प्रकरण अपंजीबद्ध न हो। राजस्व प्रकरणों के निराकरण के लिए तय की गई समय-सीमा का अनिवार्य रूप पालन किया जाए|

समय-सीमा में प्रकरण का निराकरण नहीं होने पर संबंधित अधिकारी एवं कर्मचारी से स्पष्टीकरण लिया जाए।

सीएम  ने मुख्य सचिव से कहा है कि वे संभागीय आयुक्त माह में दो बार पालन प्रतिवेदन प्राप्त करें। मुख्यमंत्री मुख्य सचिव के माध्यम से प्राप्त इन पालन प्रतिवेदन का स्वयं अवलोकन करेंगे।

Leave A Reply

Your email address will not be published.