राहुल के आने से ठीक पहले रायपुर की सड़क पर Poster War?

राजधानी रायपुर में राहुल के स्वागत में एक तरह से पोस्टर वार शुरू हो गया है | राहुल गाँधी के कल राजधानी रायपुर आने के ठीक पहले स्वागत में लगे  मंत्री टी एस सिंहदेव  के पोस्टर  हटा दिए गये | सांसद और कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गाँधी कल 3 फरवरी को रायपुर में कई कार्यक्रम में शामिल हो रहे हैं |

0 119

- Advertisement -

रायपुर | राजधानी रायपुर में राहुल गाँधी के स्वागत  में एक तरह से पोस्टर वार शुरू हो गया है | राहुल गाँधी के कल राजधानी रायपुर आने के ठीक पहले स्वागत में लगे  मंत्री टी एस सिंहदेव  के पोस्टर  हटा दिए गये | सांसद और कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गाँधी कल 3 फरवरी को रायपुर में कई कार्यक्रम में शामिल हो रहे हैं |

राजधानी रायपुर में राहुल के सवागत में एक तरह से पोस्टर वार शुरू हो गया है | कांग्रेसी स्वागत के लिए जगह-जगह बेनर पोस्टर लगाये हैं इनमें मंत्री टी एस सिंहदेव के द्वारा भी पास्टर लगवाये गये हैं | उनके आगमन से ठीक पहले मंत्री टीएस सिंहदेव के लगाये होर्डिंग, उनकी ही सरकार ने चुन चुन कर उतरवा दिये|

सोशल मीडिया पर इसका वीडियो वायरल होने लगा है | पोस्टर उतारकर नगरपालिका रायपुर की एक गाड़ी में रखते हुए देखा जा सकता है | वीडियो में पुलिसवाले भी दिखाई दे रहे हैं |

छत्तीसगढ़ के वरिष्ठ पत्रकार आलोक  पुतुल ने ट्विट किया –

 

twitter पर इसका जवाब भी देखें

- Advertisement -

शिवांगी सिंह @SShankargarh  बाबा का व्यवहार और सहनशीलता है नहीं तो कोई कसर नहीं छोड़ी गई उनके अपमान में. बहुत महंगा पड़ेगा. सिंहदेव सिंधिया बन नहीं सकते और इसका ऐसा फायदा. पसंदीदा नेताओं में एक हैं. उनके साथ ठीक नहीं ये.   

@imdrdeepak  जैसा भेदभाव टी एस बाबा के साथ @INCIndia @INCChhattisgarh  ने किया है वैसा शायद ही कोई पार्टी करती होगी अपने इतने वरिष्ठ व समर्पित कार्यकर्ता के साथ। पहले ढाई-ढाई साल CM वाले वादे को तोड़ा,अब उनकी लोकप्रिय जननेता वाली छवि को तोड़ा जा रहा है। @RahulGandhi को समय रहते रोकना होगा ये। 
@Manish_Misra1  छत्तीसगढ़ कांग्रेस में कुछ ठीक नहीं है। मुख्यमंत्री और स्वास्थ्य मंत्री में अभी भी नूराकुश्ती जारी है। सबको मिलकर एक साथ काम करना चाहिए अन्यथा विरोधी ऐसे कामों का फायदा उठाएंगे। अब जो नया बैनर और होर्डिंग लगेगी उसमें दोनों नेताओं और अन्य कांग्रेसी बड़े नेताओं की भी तस्वीर होगी।
वैसे किसके आदेश पर किन कारणों से उतारा जा रहा है यह पता चल नहीं सका है |  हो सकता है सुरक्षा का हवाला दिया जाय | पर सवाल ,सिंहदेव और भूपेश के बीच क्या सब कुछ ठीक-ठाक अब भी नहीं है ? कांग्रेस के दो ध्रुवों में विकर्षण की खबरें मीडिया की सुर्ख़ियों में हमेशा बनी रही हैं |

उधर एक अन्य  पोस्टर को लेकर भाजपा ने कांग्रेस पर हमला बोला है | इस पोस्टर में राहुल गाँधी का नाम सबसे पहले है जबकि उसके नीचे सीएम भूपेश बघेल का और आखिर में विधानसभा अध्यक्ष चरण दास महंत के नाम का जिक्र किया गया है |

 

भाजपा के पूर्व मंत्री अजय चंद्राकर @Chandrakar_Ajay ने इसे विशेषाधिकार भंग का मामला करार देते ट्विट किया है –

छत्तीसगढ़ (कांग्रेस-शोषित) के मुख्यमंत्री मान. श्री @bhupeshbaghel जी प्रोटोकॉल (Protocol) में किसी भी सांसद से ऊपर हैं….. हम अपने मुख्यमंत्री का अपमान किसी भी सूरत में नहीं सहेंगे.. इसमें विशेषाधिकार भंग हुआ है..।

Leave A Reply

Your email address will not be published.