छत्तीसगढ़ में घर बैठे मिलेगी शराब, यह करना होगा

लॉकडाउन के दौरान छत्तीसगढ़ सरकार एक बार फिर शराब की ऑन लाइन बिक्री कर घर पहुँच सेवा उपलब्ध करा रही है| आबकारी विभाग के आदेश  के मुताबिक  प्रदेश में आज 10 मई  से सुबह 9 से रात 8 बजे तक पहले पेमेंट लेकर ही होम डिलीवरी होगी।

0 2

रायपुर| लॉकडाउन के दौरान छत्तीसगढ़ सरकार एक बार फिर शराब की ऑन लाइन बिक्री कर घर पहुँच सेवा उपलब्ध करा रही है| आबकारी विभाग के आदेश  के मुताबिक  प्रदेश में आज 10 मई  से सुबह 9 से रात 8 बजे तक पहले पेमेंट लेकर ही होम डिलीवरी होगी।

आवश्यकतानुसार जिले के कलेक्टर समय में वृद्धि और कमी कर सकते हैं। वहीं, होम डिलीवरी करने वाले दुकानों का निर्धारण छत्तीसगढ़ स्टेट मार्केटिंग कॉरपोरेशन लिमिटेड की तरफ से किया गया है।

आबकारी विभाग ने बाकायदा मोबाइल के गूगल प्ले स्टोर में CSMCL Online के जरिए ऑनलाइन मदिरा का ऑर्डर लिए जाने की भी बात कही है।

बुकिंग के लिए ग्राहक को http://csmcl-in में अपना नाम, आधार कार्ड, जन्म वर्ष तथा मोबाइल नंबर देकर का पंजीयन करना होगा।

ग्राहक को अपने घर के नजदीक की दुकान का चयन करने की सुविधा भी होगी। शराब की होम डिलीवरी के दौरान ग्राहक को  5000 एमएल तक होम डिलीवरी की जा सकेगी। जिसमें 15 किलोमीटर की दूरी तक ही अप्रूवल दिया गया है।

होम डिलीवरी के दौरान शराब की कीमत के साथ डिलीवरी चार्ज 100 रुपये , जीएसटी और पेमेंट गेटवे चार्ज का भी भुगतान ग्राहक को ही करना होगा।

इधर छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा लॉकडाउन के दौरान शराब की ऑन लाइन बिक्री कर घर पहुँच सेवा के फैसले को लेकर भाजपा हमलावर बनी हुई है|

पूर्व मुख्यमंत्री रमन सिंह की ट्विट कि -सरकार को शाबासी दीजिए! कोरोना संकट में यह देश की पहली सरकार है जो शराब की होम डिलीवरी करेगी। आपके घर राशन, दवाई और वैक्सीन पहुंचे या नहीं लेकिन यह शराब जरूर पहुंचाएंगे। सोचिए! अस्पतालों में मरीज दम तोड़ रहे हैं लेकिन इस सरकार को बस शराबियों की चिंता है।

अब भाजपा के तेज-तर्रार विधायक अजय चन्द्राकर ने  निशाना साधा है। इस बार उन्होंने शराब के विकल्प के तौर पर सिरप पीने से होने वाली मौतों अवैध ज़हरीली शराब से होने वाली मौत का ज़िक्र करते हुए पूछा है|

 

Leave A Reply

Your email address will not be published.