हवाई हमले का नक्सलियों ने लगाया आरोप , IG ने कहा, बेबुनियाद

19 अप्रैल की सुबह ड्रोन और हेलीकॉप्टर से माओवादियों पर 12 बम गिराए गए

0 2

जगदलपुर| बस्तर के जंगलों में हवाई हमले का आरोप लगते हुए माओवादियों ने मिडिया को एक प्रेस नोट जारी किया है| सबूत के तौर पर बकायदा कथित बमबारी की तस्वीर भी जारी की है| बस्तर आईजी ने इसे बेबुनियाद आरोप बताया है|

दंडकारण्य स्पेशल जोनल कमेटी के प्रवक्ता विकल्प द्वारा जारी प्रेस नोट के माध्यम से मीडिया को इस बात की जानकारी दी गई है कि 19 अप्रैल की सुबह ड्रोन और हेलीकॉप्टर से माओवादियों पर 12 बम गिराए गए हैं, हालांकि इस हवाई हमले से पहले ही नक्सली अपना ठिकाना बदल चुके थे जिसके चलते उन्हें कोई नुकसान नहीं पहुंचा है|

नक्सलियों ने बम गिराए जाने संबंधी एक फोटो और एक वीडियो भी जारी किया है| फोटो में बम के अवशेषों को दिखाया गया है|

दूसरी ओर बस्तर के आईजी सुंदरराज पी ने कहा है कि नक्सलियों का यह आरोप बेबुनियाद है| नक्सल प्रभावित क्षेत्रों में ड्रोन या हेलीकाप्टर से किसी प्रकार की बमबारी नहीं की गई है|

आईजी सुंदरराज ने  विज्ञप्ति जारी कर कहा है कि नक्सल मोर्चे पर तैनात फोर्स कानून और नियम कायदों से बंधकर अपनी ड्यूटी  कर रही है। लोगों की जानमाल की सुरक्षा ही फोर्स का मकसद है।

उन्होंने कहा कि यह माओवादियों और उनके बड़े नेताओं का कर्म है बेकसूर आदिवासियों की हत्या आईईडी और विस्फोटकों से करना , न कि फोर्स का।

आये दिन उनकी इन्हीं जघन्य वारदातों  से लोग और पशु काल कवलित होते आये हैं ।

ऐसे में इन हत्यारे को कोई हक नहीं बनता की वे सुरक्षा बलों पर इस तरह का उल जलूल व बेबुनियाद आरोप लगाये ।

आईजी ने नक्सलियों को चेतावनी देते हुए कहा है कि यही सही वक्त है कि वे अपनी इन हरकतों से बाज आये ताकि बस्तर की अबोध जनता शांति से जीवन यापन कर सके । अन्यथा अपने सर्वनाश के लिए तैयार रहें ।

Leave A Reply

Your email address will not be published.