सारंगढ़ में शामिल का विरोध:  बरमकेला ब्लाक के 225 गांवों से 16 हजार आपत्ति पत्र

बरमकेला ब्लाक के 225 ग्रामों के 16 हजार लोगों ने आज 20 दिसंबर को नये जिले सारंगढ़ में शामिल किये जाने का विरोध करते आपत्ति दर्ज कराई | वे पहले की तरह रायगढ़ जिले में रखने की मांग कर रहे हैं |

0 55

- Advertisement -

रायगढ़| बरमकेला ब्लाक के 225 ग्रामों के 16 हजार लोगों ने आज 20 दिसंबर को नये जिले सारंगढ़ में शामिल किये जाने का विरोध करते आपत्ति दर्ज कराई | वे पहले की तरह रायगढ़ जिले में रखने की मांग कर रहे हैं |

बता दें छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने 15 अगस्त को प्रदेश में 4 नए जिले की घोषणा की थी |  नये जिले सारंगढ़ की घोषणा बिलाईगढ़ ब्लॉक, सारंगढ़ ब्लॉक, एवं बरमकेला ब्लाक को जोड़कर किया गया है। जिसका बरमकेला ब्लाक शुरू से ही  विरोध कर रहा है | मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के निवास पहुंच कर फरियाद की थी ।

तब मुख्यमंत्री कहा था कि नवीन जिला निर्माण के संबंध में शासन के प्रक्रिया के तहत आपको चलना पड़ेगा। जिसमें दावा आपत्ति का भी प्रावधान है। इस प्रावधान के तहत आप अपना आपत्ति दर्ज करा कर जहां रहना चाहते हैं रह सकते हैं।

छत्तीसगढ़ में चार नये जिले और 18 नई तहसीलों की घोषणा

आज 20 दिसंबर सोमवार को विकासखंड बरमकेला के 225 ग्रामों की करीब 16 हजार लोगों ने बरमकेला पहुंचकर तहसील कार्यालय बरमकेला में पदस्थ तहसीलदार अनुज पटेल को सचिव छत्तीसगढ़ शासन के नाम आपत्ति पत्र प्रस्तुत किया है।

आपत्ति पत्र प्रस्तुत करने के दौरान विधायक प्रकाश नायक, भाजपा नेता जगन्नाथ पाणिग्राही, पूर्व विधायक जवाहर नायक, जिला पंचायत सदस्य कैलाश नायक, जनपद उपाध्यक्ष किशोर पटेल, विधायक प्रतिनिधि अरुण शर्मा ,जिला पंचायत सदस्य अजय जवाहर नायक ,जनपद पंचायत अध्यक्ष तारा अरुण शर्मा, नगर पंचायत अध्यक्ष बरमकेला  हेमसागर नायक, नगर पंचायत अध्यक्ष सरिया स्वप्निल स्वर्णकार, सरपंच संघ अध्यक्ष ओंकार पटेल सहित बड़ी संख्या में क्षेत्र के जनप्रतिनिधि उपस्थित थे।

आज तहसील कार्यालय बरमकेला के सामने सारंगढ़  बरमकेला मुख्य मार्ग पर करीब 16 हजार लोग जुटे |   सड़क पर ही चौपाल लगाकर जनप्रतिनिधियों ने सारंगढ़ और रायगढ़ की तुलना करते हुए रायगढ़ को ही अपना सुविधा युक्त जिला घोषित किया और कहा कि हमें हर हाल में रायगढ़ जिला में ही रहना है। चाहे इसके लिए हमें आगे कुछ भी करना पड़े। इसके लिए हम पीछे नहीं हटेंगे।

- Advertisement -

विधायक प्रकाश नायक, भाजपा नेता जगन्नाथ पानीग्राही कृषक कल्याण परिषद के सदस्य शरद यादव , जिला पंचायत सदस्य कैलाश नायक ,जिला पंचायत सदस्य अजय जवाहर नायक, पूर्व विधायक जवाहर नायक, ब्लॉक कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष केशव पातर ,भाजपा मंडल अध्यक्ष सरिया परदेसी प्रधान, बरमकेला नगर पंचायत अध्यक्ष हेमसागर नायक ,नगर पंचायत अध्यक्ष सरिया स्वप्निल स्वर्णकार  किसान संघ सचिव नंदकिशोर बिसवाल, कांग्रेस नेता बृजेश स्वर्णकार विधायक प्रतिनिधि नरेश साहू, पद्मन प्रधान, पूर्व सरपंच मधुसूदन साहू ,चक्रधर पटेल ,बाबूलाल पटेल ,जनपद पंचायत बरमकेला अध्यक्ष श्रीमती तारा अरुण शर्मा, उपाध्यक्ष किशोर पटेल, सरस्वती युवराज चौधरी उज्जवल मिरी सुशीला संपत बरिहा, कुबेर चरण रात्रे, जोतराम पटेल, आसाराम भोय, महेश नायक, प्रमोद नायक उपसरपंच, हरिहर प्रधान साकरा, आदि   सभा में उपस्थित थे।

सभी ने एकमत कहा कि हमें हर हाल में रायगढ़ जिला में ही रहना है तथा सभी ने एक स्वर में हाथ खड़ा करते हुए कहा कि सबले बढ़िया रायगढिया। रायगढिया नारों के साथ दोपहर तहसीलदार अनुज पटेल के ऑफिस में पहुंचकर 16 हजार आपत्ति पत्र प्रस्तुत किया गया।

मुख्यमंत्री माँगों को करेंगे पूरा- प्रकाश नायक  

सभा को संबोधित करते हुए रायगढ़ विधायक प्रकाश नायक ने कहा कि छत्तीसगढ़ के  मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल आपके माँगों को निश्चित तौर से पूरा करेंगे। इसके पहले जब हम सभी लोगों ने  मुख्यमंत्री जी से इस मामले को लेकर मुलाकात की थी तो उन्होंने कहा था कि आप लोग जहाँ चाहेंगे वही रहिए। ऐसे में वें निश्चित तौर से आप और हम सभी की इस माँग को पूरा करेंगे।विधायक ने सारंगढ़ को जिला बनाये जाने के लिए मुख्यमंत्री  का आभार भी व्यक्त किया।

जिला संघर्ष समिति द्वारा की गई भोजन की व्यवस्था

भोजन की व्यवस्था जिला पंचायत सदस्य कैलाश नायक,विधायक प्रतिनिधि  अरुण शर्मा व जनपद पंचायत उपाध्यक्ष बरमकेला द्वारा की गई थी।सभा समाप्त होने के बाद बरमकेला विकासखंड़ के 225 गाँव से पहुँचे इन सभी लोगों ने भोजन किया और घर अपने अपने घर लौटें।

deshdigital के लिए किशोर कर की रिपोर्ट

Leave A Reply

Your email address will not be published.