अमर जवान ज्योति को हटाना मोदी का पाकिस्तान प्रेम : अंकित

अमर जवान ज्योति को हटाने पर खल्लारी विधानसभा के कांग्रेस नेता अंकित बागबाहरा ने कहा है  कि आज अहंकार में डूबी माफिवीरों की भाजपा सरकार दिल्ली स्थित भारत पाकिस्तान युद्ध में शहीद हुए 3000 सैनिकों की याद में प्रज्वलित की गई अमर जवान ज्योति को हटाने का फैसला लिया जिसकी जितनी निंदा की जाए कम है ।

0 119

- Advertisement -

बागबाहरा| अमर जवान ज्योति को हटाने पर खल्लारी विधानसभा के कांग्रेस नेता अंकित बागबाहरा ने कहा है  कि आज अहंकार में डूबी माफिवीरों की भाजपा सरकार दिल्ली स्थित भारत पाकिस्तान युद्ध में शहीद हुए 3000 सैनिकों की याद में प्रज्वलित की गई अमर जवान ज्योति को हटाने का फैसला लिया जिसकी जितनी निंदा की जाए कम है ।

अंकित ने कह कि जब पूर्वी पाकिस्तान में भारतीयोँ पर पाकिस्तानी सेना का अत्याचार बढ़ने लगा तब सन 1971 में स्व इंदिरा गांधी जी ने पूर्वी पाकिस्तान पर 3 दिसम्बर को हमला कर 16 दिसम्बर को जीत हासिल की और पाकिस्तान के दो टुकड़े कर लगभग साढ़े सात करोड़ लोगों को आजादी दिलवा बांग्लादेश बनवाया । पाकिस्तान को करारी शिकस्त झेलनी पड़ी और 93000 पाकिस्तानी सैनिकों को आत्मसमर्पण करना पड़ा और भारत के 3000 सिपाही शहीद हुए |

इन्ही की याद में स्व इंदिरा जी द्वारा ही अमर जवान ज्योति की स्थापना करवाई गई जो कि उन अमर शहीदों के प्रति सच्ची श्रद्धांजलि थी । पर बड़े दुःख की बात है कि 16 दिसम्बर 1971 के बाद 16 दिसम्बर 1921को विजय दिवस के पूरे 50 साल होते ही मोदी ने इसे हटवाया जिसमें 5 शहीदों को परमवीर चक्र से भी सम्मानित किया गया था ।

अमर जवान ज्योति की लौ राष्ट्रीय युद्ध स्मारक ज्योति में विलय

- Advertisement -

अंकित ने सवाल किया कि अमर जवान ज्योति को राष्ट्रीय समर स्मारक में मर्ज करने की बात भाजपा करवा रही है, तो ये क्या राजनीतिक दल है जिनका गठबंधन हो रहा है,दोनों ज्योति अलग अलग बहुत महत्व रखती है।

अमर जवान ज्योति को हटवाने का फैसला 13 दिन चली इस लड़ाई के साथ साथ 3000 शहीद सैनिकों का घोर अपमान और पाकिस्तान के 93000 युद्ध बंदियों को नमन और पाकिस्तान में खाई बिरियानी के नमक का हक अदा करने की मोदीजी की भाजपा सरकार की नाकाम कोशिश है ।

अमर जवान ज्योति की लौ राष्ट्रीय युद्ध स्मारक ज्योति में विलय

कांग्रेस नेता अंकित ने ये भी आरोप लगाया कि एक तरफ मोदी जी की सुरक्षा में डेढ़ करोड़ रुपये रोज याने 10 हजार रुपये प्रति मिनट खर्च किये जा रहे है, उनके प्रचार में 2 करोड़ रुपये रोज खर्च किये जा रहे है और मात्र सी एन जी पर जलने वाली अमर जवान ज्योति पर रोज के कुछ हजार रुपये भी खर्च न कर पाना और इसे हटाया जाना बहुत दुखद है और शहीद परिवारों का भाजपा द्वारा उड़ाया जाने वाला उपहास है जिसे देश कभी नही भूलेगा और आज का दिन भारत के इतिहास में काले पन्नों में दर्ज होगा ।

Leave A Reply

Your email address will not be published.