माँ रणेश्वर रामचंडी मंदिर गढ़फुलझर का 17 वां स्थापना दिवस मनाया गया

छत्तीसगढ़ के महासमुंद जिले के ग्राम गढ़फुलझर स्थित सुप्रसिद्ध माँ रणेश्वर रामचंडी मंदिर का  17 वां स्थापना दिवस मनाया गया | बाबा बिशासहे कुल कोलता समाज की कुलदेवी माँ रणेश्वर रामचंडी की समाज द्वारा विशेष पूजा-अर्चना की गई |

0 1,000

- Advertisement -

बसना | छत्तीसगढ़ के महासमुंद जिले के ग्राम गढ़फुलझर स्थित सुप्रसिद्ध माँ रणेश्वर रामचंडी मंदिर का  17 वां स्थापना दिवस मनाया गया | बाबा बिशासहे कुल कोलता समाज की कुलदेवी माँ रणेश्वर रामचंडी की समाज द्वारा विशेष पूजा अर्चना की गई | इस अवसर पर कोलता समाज द्वारा समाज के प्रतिभाशाली बच्चों, युवकों को सम्मानित किया गया | समाज द्वारा भंडारे का भी आयोजन किया गया था | युवको द्वारा सांस्कृतिक आयोजन भी किये गये |

हर बरस की तरह इस बरस भी बसना के समीपस्थ ग्राम गढ़फुलझर स्थित सुप्रसिद्ध माँ रणेश्वर रामचंडी मंदिर में 17 वां स्थापना दिवस मनाया गया |  पहाड़ी पर स्थित मंदिर की आकर्षक सजावट की गई थी |

कोविड नियमों के परिपालन में इस वर्ष आयोजन सादगी पूर्ण रहा | सन 2004 से अब तक हर वर्ष हो रहे आयोजन को देखते ओडिशा से भी लोग जुटे थे |

विशेष पूजा अर्चना के बाद आयोजित सम्मान समारोह की अध्यक्षता समाज के अध्यक्ष हरिचरन प्रधान ने की |  समाज के प्रतिभावान बच्चों -युवकों, उल्लेखनीय स्थान हासिल करने वाले युवक-युवतियों को , समाज सेवा आदि के लिए सम्मानित किया गया |

- Advertisement -

करोना वारियर सम्मान के सी प्रधान,  स्वप्नेंद्र साहू, दीपक प्रधान  तथा समाजसेवा के लिए रक्तदान सेवा समिति में अहम भूमिका निभाने वाले युवा पुरूषोत्तम प्रधान को सम्मानित किया गया |

रविशंकर विश्वविद्यालय द्वारा आयोजित परीक्षा में   मेरिट सूची मे प्रथम स्थान अर्जित करने पर  अलकारानी प्रधान  को  सम्मानित किया गया।

 

मंदिर में आने वाले समस्त भक्तों ने विशाल भंडारा में प्रसाद ग्रहण किया |

इस अवसर पर युवकों द्वारा  एकल तथा सामूहिक डांस प्रतियोगिता का आयोजन किया गया था | जिसमें छत्तीसगढ़ तथा ओडिशा के दर्जनों प्रतिभागियों ने अपनी प्रस्तुति दी |

जिसमें सामूहिक  वर्ग में  प्रथम 7000/₹द्वितीय 5000/₹तृतीय 4000/₹चतुर्थ 3000/₹पंचम 2000/₹एवम छटवां 1000/₹ इसी प्रकार से एकल डांस में प्रथम3000/₹द्वितीय 2000/₹तृतीय 1000/₹चतुर्थ 500/₹ का इनाम रखा गया था।

इस आयोजन में प्रमुख रूप से मंदिर अध्यक्ष कमलचंद प्रधान, सचिव श्रवण विशाल, कोषाध्यक्ष नंदलाल भोई, मंदिर संचालक सुवर्धन प्रधान,  अध्यक्ष हरिचरण प्रधान, महामंत्री गिरधारी साहू, कार्यकर्ता   भाग्येश  साहू, आयोजक व्यवस्था समिति नरेंद्र पाणे , विजयशंकर पाणे,   रमेश भोई, जसवीरसिंह,  सोमनाथ पाणे, सरपंच श्रीमती सुशीला मलिक  उपस्थित थे।

deshdigital के लिए बसना से बृजलाल दास की रिपोर्ट

Leave A Reply

Your email address will not be published.