राजीव-सोनिया को कंदमूल खिलाने वाली 92 वर्षीय बल्दी बाई ने कोरोना को दी मात

बल्दीबाई कांग्रेस की पोस्टर लेडी के रूप में जानी जाती है

0 1

रायपुर| राजीव और सोनिया गाँधी को कंदमूल  खिलाने वाली गरियाबंद कुल्हाड़ीघाट की 92 वर्षीय बल्दी बाई ने कोरोना को मात दे दी| बल्दी बाई का 25 अप्रैल को एंटीजन टेस्ट कोविड पॉजिटिव आया था । सीएम  बघेल ने इसकी जानकारी मिलते ही बल्दी की समुचित इलाज के निर्देश दिये थे|

गरियाबंद जिले के  मैनपुर विकासखंड अंतर्गत ग्राम कुल्हाड़ीघाट की रहने वाली 92 वर्षीय बल्दी बाई करोना को मात दे दी|  बल्दी बाई का 25 अप्रेल को एंटीजन टेस्ट कोविड पॉजिटिव आया था । उन्हें सामान्य सर्दी बुखार का लक्षण दिखाई दे रहा था। जिला प्रशासन द्वारा तत्परता से उपचार मुहैया कराया गया और तत्काल उन्हें रायपुर स्थित मेकाहारा में भर्ती कराया गया । जहां 10 दिनों के उपचार के पश्चात कल  डिस्चार्ज किया गया।

गरियाबंद सीएमएचओ डॉक्टर एनआर नवरत्न ने बताया कि बल्दी बाई कोरोना से मुक्त एवं स्वस्थ होकर वापस आ गई है। यहां जिला चिकित्सालय में सामान्य चेकअप के पश्चात उन्हें गांव कुल्हाड़ी घाट के लिए रवाना किया गया है।उन्होंने कहा कि अभी भी उनका नियमित तौर पर स्वास्थ्य चेकअप किया जाएगा ।

डॉ नवरत्न ने बताया कि कलेक्टर निलेश क्षीरसागर के निर्देश पर वे प्रतिदिन उनके स्वास्थ्य के बारे में रायपुर के डॉक्टर से चर्चा कर जानकारी लेते थे और उनके बेहतर इलाज के लिए प्रयास कर रहे थे|

बता दें  कि बल्दीबाई वहीं कमार महिला है जिन्होंने 80 के दशक में तत्कालीन प्रधानमंत्री राजीव गांधी और उनकी पत्नी सोनिया गांधी को सन् 1985 में कुल्हाड़ीघाट प्रवास के दौरान अपनी झोपड़ी में बिठाकर कंदमूल खिलाये थे, तब से बल्दीबाई कांग्रेस की पोस्टर लेडी के रूप में जानी जाती है|

सीएम  बघेल ने इसकी जानकारी मिलते ही बल्दी की समुचित इलाज के निर्देश दिये थे| बल्दी को रायपुर मेकाहारा में लाकर भर्ती कराया गया था|

वहीँ बल्दी बाई की नाती बहू और बच्चे की हाल ही में दौरान रायपुर जिले के अभनपुर में एक निजी अस्पताल में मौत हो गई। परिजनों का कहना था कि  कर्ज करके अस्पताल का बिल चुकाना पड़ा।

Leave A Reply

Your email address will not be published.