छत्तीसगढ़ पुलिस की एक चौकी को महुआ शराब का सहारा !

छत्तीसगढ़ पुलिस के इस चौकी प्रभारी की मानें तो उनकी चौकी के खर्चे अवैध महुआ शराब  के सहारे चलते  है | आवभगत के लिए खर्चे इसी से निकलते हैं |छत्तीसगढ़ पुलिस के इस चौकी प्रभारी की मानें तो उनकी चौकी को अवैध महुआ शराब का सहारा है | आवभगत के लिए खर्चे इसी से निकलते हैं |

0 212

- Advertisement -

पिथौरा/ महासमुंद | छत्तीसगढ़ पुलिस के इस चौकी प्रभारी की मानें तो उनकी चौकी को अवैध महुआ शराब  का  सहारा  है | अफसरों -नेताओं के आवभगत के लिए खर्चे इसी से निकलते हैं | वैसे चौकी प्रभारी मीडिया से यह भी कहते हैं , अवैध शराब बिक्री पर लगातार कार्रवाई जारी है |  6 माह में ही 45 मामले मामले उनके द्वारा बनाये गये हैं|

प्रदेश सरकार की शराब नीति को आईना दिखाती यह तस्वीर छत्तीसगढ़ के  बलौदाबाजार जिले के  बया पुलिस चौकी की है| बलौदाबाजार जिले के जंगल इलाके  में शासकीय दर से अधिक दर पर शराब की अवैध बिक्री के अनेक मामलों के बीच खबर है कि सरकारी शराब के समकक्ष ही  महुआ निर्मित हाथ शराब बिक रही है।

बता दें  हाल ही में कलेक्टर ने ओव्हर रेट में शराब बिक्री को रोकने अनुविभागीय अधिकारियों को निरीक्षण करते रहने का जिम्मा दिया था। परन्तु इसके बाद भी क्षेत्र में जगह-जगह कच्ची महुआ शराब आसानी से बिक रही है।  इसमें  बया चौकी, राजादेवरी थाना, सोनाखान चौकी  का इलाका प्रमुख है।

सूत्रों के मुताबिक मात्र बया चौकी अंतर्गत ही 50 से अधिक स्थानों पर अवैध महुआ शराब बना कर बेची जा रही है। इस काम मे क्षेत्र के अनेक युवा भी लगे है।  वहीँ  गाँव की गलियों में गाली-गलौज कर लड़ते झगड़ते देखे जा सकते है। शराबियों की हरकतों से महिलाओं का शाम होते गलियों में निकलना मुश्किल  हो गया है।

 चौकी थाना का खर्च महुआ शराब से–चौकी प्रभारी

अवैध शराब की बिक्री पर रोकथाम सम्बन्धी सवाल पर  बया चौकी प्रभारी धनेश ताड़ेकर ने मीडिया को बताया कि अवैध शराब बिक्री की जैसी जैसी सूचना मिल रही है लगातार कार्रवाई की जा रही है। आगे भी कड़ी कार्रवाई की जाती रहेगी। अभी तक 6माह में मेरे द्वारा महुआ शराब के 45 मामले बने हैं । जो की जिले भर में किसी भी थाना क्षेत्र में नही बना है।  रही बात महुआ शराब बिक्री की तो चौकी थाना का खर्चा महुआ शराब की बिक्री से ही चल रहा है ।

वहीँ सोनाखान पुलिस चौकी प्रभारी श्री मार्कण्डेय ने मीडिया को बताया कि अवैध शराब की बिक्री की शिकायत मिलती है तो तत्काल कार्यवाही की जाती है।

- Advertisement -

इस सम्बन्ध में  कसडोल आबकारी उप निरीक्षक सुकान्त पाण्डेय से फ़ोन पर जानकारी लेनी चाही तो उन्होंने  मोबाईल फोन रिसीव नहीं किया।

अवैध शराब पर कार्यवाही हो रही: जिला आबकारी अधिकारी

इधर बलौदाबाजार के जिला आबकारी अधिकारी आशीष कोसम ने मीडिया को बताया कि वर्तमान में अवैध शराब पर लगातार कार्रवाई की जा रही है, बड़ी मात्रा में शराब की जब्ती भी हुई है जिसकी जानकारी प्रेस विज्ञप्ति जारी कर दी जाएगी। बहुत जल्दी बड़ी कार्रवाई और होने वाली है। अभीतक स्टाफ की कमी थी, किन्तु कलेक्टर ने जवानों की व्यवस्था की है जिससे आने वाले दिनों में विभाग को अधिक सफलता मिलेगी।

 बया चौकी बन्द कर देनी चाहिए:चौहान

छत्तीसगढ़ लोकहित सेवा संस्थान के अध्यक्ष लोचन चौहान चिंता व्यक्त करते हुए कहा कि अत्यंत शर्म की बात है कि बया चौकी का खर्च अवैध महुआ शराब से चलता  है। जब प्रदेश शासन एक पुलिस चौकी का खर्च नहीं  चला पा रही तब इस चौकी के संचालन का क्या औचित्य है। इससे अच्छा यह है कि इस चौकी को ही बन्द कर दिया जाय |

बहरहाल, ग्रामीणों की मानें तो  बया चौकी इलाके  में 50  से ज्यादा स्थानों पर अवैध महुआ शराब की बिक्री हो रही है।  पुलिस एवम आबकारी विभाग बेबस नजर आ रहा है |

एक नई मुसीबत यह भी 

वहीँ जंगलों में शराब बनाने के बाद  फेंका गया महुआ का लाहन भी एक नई मुसीबत लेकर आ रहा है | जंगली जानवर खासकर भालू इसे खाने के बाद आक्रामक हो जाते हैं| कई ग्रामीण इस तरह के भालूओं के शिकार हो चुके हैं | महुआ  हाथियों का भी पसंदीदा भोजन है  वहीँ शराब की गंध से वे भी उत्तेजित हो जाते हैं| इनके सामने आये कई शराबी ग्रामीण जान गंवा चुके हैं |

Leave A Reply

Your email address will not be published.