जैन संवेदना ट्रस्ट के जरिये साधर्मिक जनों को मदद का संकल्प

जैन संवेदना ट्रस्ट के जरिये साधर्मिक जनों को पचास लाख रुपये की मदद का संकल्प लिया गया है|  विगत दिनों 5 परिवारों की मदद करने वाले प्रकाश सुराना का मुख्यमंत्री के हाथों अभिनंदन किया गया |

0 350

- Advertisement -

महासमुंद|  जैन संवेदना ट्रस्ट के जरिये साधर्मिक जनों को पचास लाख रुपये की मदद का संकल्प लिया गया है|  विगत दिनों 5 परिवारों की मदद करने वाले प्रकाश सुराना का मुख्यमंत्री के हाथों अभिनंदन किया गया |

बता दें भगवान महावीर जन्मकल्याणक महोत्सव समिति द्वारा साधर्मिक भाई बहनों के आर्थिक उन्नयन हेतु नगद मदद का कार्य किया गया है ।

कोरोना काल के बाद कई परिवारों के व्यापार पर संकट मंडरा रहा है । परिवार चलाना मुश्किल हो गया है । समिति के अध्यक्ष महेन्द्र कोचर व सलाहकार विजय चोपड़ा ने बताया कि संकट के समय में श्री प्रकाश सुराना ने सहयोग की पहल की है जिनके माध्यम से 5 परिवारों की मदद की गई है।  इस अनुकरणीय सेवा हेतु मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने प्रकाश सुराना का अभिनंदन किया।

- Advertisement -

आगे इस योजना का प्रभार जैन संवेदना ट्रस्ट को दिया गया है । साधर्मिक भक्ति में इस वर्ष पचास लाख रुपये के सहयोग का लक्ष्य रखा गया है । इस योजना में जिन परिवारों की मदद की जावेगी उनका परिचय गुप्त रखा जावेगा। सहयोग करने वाले लोगों का अभिनंदन किया जावेगा। राशि की वापसी तय की जावेगी जिससे भविष्य में और परिवारों की मदद की जावेगी।

बता दें 14  अप्रैल को मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल आज यहां राजधानी के एमजी रोड स्थित दादाबाड़ी में आयोजित भगवान महावीर स्वामी जन्मकल्याणक महोत्सव में शामिल हुए। इस मौके पर उन्होंने दादाबाड़ी परिसर स्थित श्री धर्मनाथ जिनालय में पूजा-अर्चना कर प्रदेशवासियों के सुख-समृद्धि एवं खुशहाली की कामना की। मुख्यमंत्री श्री बघेल ने इस अवसर पर जैन समाज के लोगों को भगवान महावीर स्वामी की 2621वीं जयंती पर बधाई और शुभकामनाएं दीं।

इस अवसर पर मुख्यमंत्री श्री बघेल ने  कहा कि हमारी सरकार छत्तीसगढ़ में हर समाज और वर्ग की उन्नति के लिए निरंतर कार्य कर रही है। विगत कोरोना संकट के दौर में भी स्थिति से उबरने में सभी समाज के लोगों का भरपूर सहयोग मिला, जिसमें जैन समाज से मिले सहयोग की भी बड़ी भूमिका रही।

 

Leave A Reply

Your email address will not be published.