इस डेढ़ किमी गढ्ढे-कीचड़ वाले सड़क से पढ़ने जायेंगे स्कूली बच्चे !

महासमुंद जिले के  पिथौरा विकासखण्ड के ग्राम अमोदीडीह से गिरना के समीप कोई डेढ़ किलोमीटर मार्ग गढ्ढे-कीचड़ से सराबोर होने के कारण कल से खुल रहे स्कूलों में बच्चों का जाना कठिन हो गया है.

0 205

- Advertisement -

पिथौरा| महासमुंद जिले के  पिथौरा विकासखण्ड के ग्राम अमोदीडीह से गिरना के समीप कोई डेढ़ किलोमीटर मार्ग गढ्ढे-कीचड़ से सराबोर होने के कारण कल से खुल रहे स्कूलों में बच्चों का जाना कठिन हो गया है.

ज्ञात हो कि उक्त मार्ग वन विभाग के अधीन है परन्तु ग्रामीणों के बार बार निवेदन के बाद भी वन विभाग द्वारा उक्त समस्या पर ध्यान नही दिया जा रहा है.

शिक्षा जैसे महत्वाकांक्षी योजना से ग्राम पिलवापाली के बच्चे महरूम होने लगे हैं. इस वर्ष गिरना के समीप प्रधानमंत्री सड़क से पिलवापाली ग्राम को जोड़ने वाले कोई डेढ़ किलोमीटर लंबे वन मार्ग पर वाहनों की आवाजाही से मार्ग जर्जर हो चुका है. इसी डेढ़ किलोमीटर के वन मार्ग पर ग्रामीणों का पैदल चलना भी दूभर हो गया है.

- Advertisement -

पहली ही बारिश में यह मार्ग गड्ढों में मिट्टी होने की वजह से पूरी तरह कीचड़ में बदल गया है. ग्रामीणों ने क्षेत्रीय विधायक सहित स्थानीय जनप्रतिनिधियों एवम अफसरों के काफी दिनों तक चक्कर लगाए परन्तु ग्रामीणों को कही भी सफलता नहीं  मिली.

शीघ्र मरम्मत होगी– वन विभाग 
क्षेत्र के वनपाल दिनेश शर्मा ने उक्त सम्बन्ध में इस प्रतिनिधि को बताया कि उक्त मार्ग जर्जर हो चुका है फिर भी अफसरों के संज्ञान में लाकर इसकी मरम्मत की जाएगी जिससे बच्चों को स्कूल आनेजाने में परेशानी न हो.

deshdigital के लिए रजिंदर खनूजा

 

Leave A Reply

Your email address will not be published.