देश में 24 घंटे में कोरोना के 35,178 नए मामले सामने आए, 440 लोगों की हुई मौत

देश में कोविड-19 के 35,178 नए मामले सामने आने के बाद कुल संक्रमितों की संख्या बढ़कर 3,22,85,857 हो गई।

0 13

- Advertisement -

नई दिल्ली । देश में कोविड-19 के 35,178 नए मामले सामने आने के बाद कुल संक्रमितों की संख्या बढ़कर 3,22,85,857 हो गई। वहीं, राष्ट्रीय स्तर पर कोविड-19 मरीजों के ठीक होने की दर 97.52 प्रतिशत दर्ज की गई, जो मार्च 2020 के बाद सबसे अधिक है।

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के ताजा आंकड़ों से इसकी जानकारी मिली। बुधवार सुबह के आंकड़ों के मुताबिक, संक्रमण से 440 मरीजों की मौत के बाद मृतकों की संख्या बढ़कर 4,32,519 हो गई।

स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि उपचाराधीन मरीजों की संख्या घटकर 3,67,415 रह गई है, जो 148 दिनों में सबसे कम है।

यह संक्रमण के कुल मामलों का 1.14 प्रतिशत है, जो मार्च 2020 के बाद सबसे कम है। लगातार 52 दिन से देश में कोरोना के दैनिक मामले 50,000 से कम आ रहे हैं।

पिछले 24 घंटे की अवधि में इलाज करा रहे मरीजों की कुल संख्या में 2,431 की कमी आई। मंगलवार को कोविड-19 के लिये 17,97,559 नमूनों की जांच की गई,जिसके बाद देश में कुल जांच की संख्या बढ़कर 49,84,27,083 हो गई।

दैनिक संक्रमण दर 1.96 प्रतिशत दर्ज की गई। पिछले 23 दिनों से यह तीन फीसदी से नीचे रही है। स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक साप्ताहिक संक्रमण दर 1.95 प्रतिशत दर्ज की गई। पिछले 54 दिनों से यह तीन फीसदी से नीचे रही है।

- Advertisement -

आंकड़ों के अनुसार, बीमारी से स्वस्थ होने वाले लोगों की संख्या बढ़कर 3,14,85,923 हो गई, जबकि मृत्यु दर 1.34 प्रतिशत है। अभी तक कोविड-19 टीकों की कुल 56.06 करोड़ खुराक दी गई हैं।

भारत में कोरोना मामलों का आंकड़ा सात अगस्त, 2020 को 20 लाख, 23 अगस्त को 30 लाख, पांच सितंबर को 40 लाख और 16 सितंबर को 50 लाख को पार कर गया था।

यह 28 सितंबर को 60 लाख, 11 अक्टूबर को 70 लाख को पार कर गया था। इसने 29 अक्टूबर को 80 लाख, 20 नवंबर को 90 लाख और 19 दिसंबर को एक करोड़ का आंकड़ा पार किया था।

देश में संक्रमण की संख्या चार मई को दो करोड़ और 23 जून को तीन करोड़ के आंकड़े को पार कर गई थी।

देशभर में हुईं 440 मौतों में से 127 केरल में और 116 महाराष्ट्र में हुई हैं। देश में अब तक कुल 4,32,519 मरीजों की मौत हुई हैं,जिसमें महाराष्ट्र में 1,35,255, कर्नाटक में 37,039, तमिलनाडु में 34,579 दिल्ली में 25,073, उत्तर प्रदेश में 22,786, केरल में 18,870 और पश्चिम बंगाल में 18,318 मौत हुई हैं।

स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि 70 प्रतिशत से अधिक मौत मरीजों में अन्य बीमारियां होने के कारण हुईं।

Leave A Reply

Your email address will not be published.