पाबंदियों में मिली और ढील अब 72.5 फीसदी क्षमता के साथ उड़ान भर सकेंगे घरेलू विमान

नागरिक उड्डयन मंत्रालय ने एक आदेश जारी किया जिसमें घरेलू एयरलाइंस को तत्काल प्रभाव से उड़ान क्षमता 65 फीसदी से 72.5 प्रतिशत करने की अनुमति दी गई है।

0 13

- Advertisement -

नई दिल्ली । नागरिक उड्डयन मंत्रालय ने एक आदेश जारी किया जिसमें घरेलू एयरलाइंस को तत्काल प्रभाव से उड़ान क्षमता 65 फीसदी से 72.5 प्रतिशत करने की अनुमति दी गई है।

सरकार की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि घरेलू परिचालन की वर्तमान स्थिति की समीक्षा के बाद यात्रियों की क्षमता को 65 फीसदी से 72.5 फीसदी करने का फैसला लिया गया है।

यह आदेश तत्काल प्रभाव से लागू होगा और अगले आदेश तक प्रभावी रहेगा। बता दें कि देश में कोरोना वायरस के मामलों में गिरावट के बाद सरकार कुछ जगहों पर ढील दे रही है।

- Advertisement -

घरेलू एयरलाइंस की ओर से यात्रियों की क्षमता को बढ़ाने की मांग भी की जा रही थी। जुलाई में, नागरिक उड्डयन मंत्रालय ने घरेलू उड़ानों की क्षमता को पहले के 50 प्रतिशत से बढ़ाकर 65 फीसदी कर दिया था।

देश में कोरोना वायरस की दूसरी लहर के दौरान सरकार वित्तीय संकट से जूझ रहीं घरेलू एयरलाइंसों की क्षमता को कम कर 50 फीसदी पर ला दिया था।

तब कोरोना वायरस के मामलों में उछाल के बाद हवाई सफर करने वाले यात्रियों की संख्या भी कम हो गई थी। पिछले साल पहली लहर के दौरान दो महीने तक उड़ान ठह होने के बाद सरकार ने 25 मई 2020 दी थी।

तब विमानों को 33 फीसदी क्षमता के साथ उड़ान भरने की अनुमति थी, जिसे जून में बढ़ाकर 45 फीसदी कर दिया गया था।

Leave A Reply

Your email address will not be published.