दर्शक सिनेमाघरों में वापस आने के लिए तैयार : अक्षय कुमार

बालीवुड के खतरों के ‎खिलाडी अक्षय कुमार की बेल बॉटम पहली फिल्म है, जो इस कोरोना काल के दौरान थिएटर्स में रिलीज होने जा रही है।हालांकि फिल्म के रिलीज होने से पहले जहां एक्टर दबाव महसूस कर रहे हैं।

0 24

- Advertisement -

मुंबई । बालीवुड के खतरों के ‎खिलाडी अक्षय कुमार की बेल बॉटम पहली फिल्म है, जो इस कोरोना काल के दौरान थिएटर्स में रिलीज होने जा रही है।हालांकि फिल्म के रिलीज होने से पहले जहां एक्टर दबाव महसूस कर रहे हैं।

वहीं, उन्हें इस बात का पूरा भरोसा है कि दर्शक सिनेमाघरों में वापस आने के लिए तैयार हैं।अक्षय कुमार ने हाल ही में एक इंटरव्यू के दौरान फिल्म के रिलीज होने, महामारी के बीच शूटिंग और कई फिल्में करते रहने की अपनी प्रेरणा के बारे में खुलकर बात की।

अक्षय ने कहा कि दो साल हो गए, हमने सिनेमाघरों में कुछ नया नहीं देखा, लेकिन अब समय आ गया है कि लोग फिल्में देखने आएं लेकिन जरूरी है कि सरकार द्वारा जारी प्रोटोकॉल का ध्यान रखा जाए।

एक्टर ने कहा कि हम उम्मीद करते हैं कि फिर से थिएटर्स में ताला न लगे।अपनी फिल्म की रिलीज पर उन्होंने कहा कि ये एक जुआ है, जिसे हमने खेल लिया है।कहीं न कहीं से और किसी न किसी को तो शुरुआत करनी ही थी।

अक्षय कुमार ने इस बातचीत में कहा कि अगर लोग प्रोटोकॉल का ध्यान रखते हैं तो थिएटर में फिल्म देखना कम जोखिम भरा होगा।भगवान जाने आगे क्या होने वाला है, लेकिन अब सिनेमाघरों में जाना लोगों की पुकार है।

एक उदाहरण देते हुए उन्होंने कहा कि हाल ही में एक पंजाबी फिल्म रिलीज हुई थी।पहले दिन का कलेक्शन लगभग रु 11 लाख रहा और फिर अगले दिन कलेक्शन बढ़कर 35 लाख रुपये हो गया।

तो ये सच कि लोग सिनेमाघरों में जा रहे हैं.अक्षय कुमार ने अपनी फिल्म बेलबॉटम की शूटिंग को याद करते हुए कहा कि जब हमने फिल्म की शूटिंग की तो पूरी दुनिया लगभग बंद थी।

मुझे अब भी याद है कि हम 225 लोगों के कास्ट और क्रू के साथ लंदन जा रहे थे तो मैं ये सोचकर चिंतित था कि यूनाइटेड किंगडम में अधिकारी हमें अंतिम समय में शूटिंग की अनुमति देने से मना कर देंगे, लेकिन जैसे ही हमने उड़ान भरी, फ्लाइट में सवार सभी लोग खुशी से झूम उठे।

- Advertisement -

ये ऐसा एहसास था जैसे हम सभी को आजादी मिल गई हो।

उन्होंने आगे कहा कि हम सब साथ गए, साथ खेले ये मेरी सबसे अच्छी यादों में से एक हैं।मुझे किसी भी फिल्म के बाद इतना अच्छा अहसास नहीं हुआ, जितना मैंने बेल बॉटम में किया था.आप महामारी के दौरान भी कई फिल्मों की शूटिंग कर रहे हैं।

क्या आपको चिंता होती है? इस सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि मेरी नौकरी किसी भी अन्य नौकरी से भी ज्यादा खतरनाक है।

मैं उन 10 लोगों के सामने अपने मास्क के साथ शूट नहीं कर सकता, जो सभी डायलॉग दे रहे हैं।लेकिन हमें काम करना है।उन्होंने हंसते हुए कहा कि कई बार डायलॉग बोलते हुए थूक भी इधर-उधर हो जाता है, लेकिन सभी को जोखिम उठाना पड़ता है।

हम पूरी तरह बंद नहीं कर सकते हैं। मैं मानता हूं कि यह डर के बिना नहीं है।

अक्षय कुमार ने आगे कहा कि डेढ़ साल तक, मैं जीवित रहने के लिए बहुत भाग्यशाली था और फिर मुझे कोवीड-19 हो गया।उन्होंने आगे कहा कि देखिए, मेरे लिए घर बैठना आसान है।

लेकिन, मजदूरों का क्या? उन्हें भी काम की दरकार है।हम इस मामले में भाग्यशाली रहे कि पूरी शूटिंग के दौरान कलाकारों और क्रू में से कोई भी कोरोना पॉजिटिव नहीं पाया गया।

बता दें कि बॉलीवुड में एक साल में सबसे ज्यादा फिल्म करने वाले अक्षय कुमार इन दिनों अपनी जल्द रिलीज होने वाली फिल्म बेल बॉटम को लेकर सुर्खियों में बने हुए हैं।

कोरोना के कारण हालांकि अभी कई राज्यों में सिनेमाघर नहीं खुले हैं, लेकिन इस बीच जिन राज्यों में सिनेमाघर खुल रहे हैं।

Leave A Reply

Your email address will not be published.