बंगाल सीमा के पास कफ सिरप के साथ बांग्लादेशी युवक का शव बरामद

दक्षिण बंगाल फ्रंटियर, सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) के जवानों ने बंगाल में भारत-बांग्लादेश सीमा के पास से 166 बोतल फेंसिडिल कफ सिरप के साथ एक बांग्लादेशी युवक (तस्कर) का शव बरामद किया है। घटना उत्तर 24 परगना जिले के सीमा चौकी बाजार पोस्ट, 85वीं बटालियन क्षेत्र के अंतरराष्ट्रीय सीमा के पास की है।

0 85

- Advertisement -

deshdigital

कोलकाता| दक्षिण बंगाल फ्रंटियर, सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) के जवानों ने बंगाल में भारत-बांग्लादेश सीमा के पास से 166 बोतल फेंसिडिल कफ सिरप के साथ एक बांग्लादेशी युवक (तस्कर) का शव बरामद किया है। घटना उत्तर 24 परगना जिले के सीमा चौकी बाजार पोस्ट, 85वीं बटालियन क्षेत्र के अंतरराष्ट्रीय सीमा के पास की है।

- Advertisement -

बीएसएफ अधिकारियों का अनुमान है कि चंद रुपयों की लालच में आकर तस्करों के चंगुल में फंसकर बंगलादेशी युवक को किसी अनहोनी के कारण अपना बहुमूल्य जीवन गंवाना पड़ा है। बीएसएफ की ओर से एक बयान में बताया गया कि 12 जुलाई को सीमा चौकी बाजार पोस्ट, 85वीं वाहिनी, सेक्टर कोलकाता के जवान अंतरराष्ट्रीय सीमा के पास दैनिक पेट्रोलिंग ड्यूटी पर थे। उसी दौरान पट्रोलिंग पार्टी ने इच्छामती नदी के किनारे एक अज्ञात युवक का शव कटे पेड़ के बीच फंसा देखा।

शव के पास से फेंसिडिल का दो पोटला भी मिला, जिसके अंदर से 166 बोतल फेंसिडिल बरामद हुआ। सीमावर्ती ग्रामीणों की मदद से मृत तस्कर की पहचान रज्जाक गाजी (20), ग्राम-दमदम, बसंतपुर (भारा सेमलिया), थाना- कालीगंज, जिला- सतखीरा, बांग्लादेश के रूप में हुई।बीएसएफ ने घटना के बारे में पुलिस स्टेशन हिंगलगंज को सूचित किया तथा मृत शरीर को बाद में पुलिस को सौंप दिया।

इधर, 85वीं वाहिनी बीएसएफ के कार्यवाहक कमांडिंग ऑफिसर अनु टी पी ने बताया कि तस्करी में शामिल गिरोह अक्सर नौजवान लोगों को चंद रुपयों का लालच देकर अपने चंगुल में फंसा लेते हैं। इनमें कुछ एक को तो बीएसएफ पकड़ लेती है जिन्हें कानून के मुताबिक सजा हो जाती है, जबकि कुछ तस्कर अपना  जीवन गंवा देते हैं। उन्होंने कहा कि अक्सर सीमा पर तस्करों के नदी में डूबने, सांप द्वारा काटे जाने, कटे हुए पेड़ों से टकराकर घायल होने के हादसे होते रहते है। बीएसएफ सीमावर्ती इलाकों में जागरूकता अभियान भी चलाकर नौजवान लोगों के बहुमूल्य जीवन को बचाने में जुटी हुई है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.