मेडिका सुपर स्पेशलिटी हॉस्पिटल और एनएसएचएम नॉलेज केंपस ने मिलकर शिक्षक तथा छात्रों के लिए शुरू किया वैक्सीनेशन ड्राइव

मेडिका सुपर स्पेशलिटी हॉस्पिटल और एनएसएचएम नॉलेज केंपस ने साथ मिलकर फ्रंटलाइन शिक्षक तथा छात्रों के लिए पश्चिम बंगाल का सबसे बड़ा वैक्सीनेशन ड्राइव शुरू किया है। कोरोना टीकाकरण के इस महत्वाकांक्षी अभियान...

0 57

- Advertisement -

कोलकाता| मेडिका सुपर स्पेशलिटी हॉस्पिटल और एनएसएचएम नॉलेज केंपस ने साथ मिलकर फ्रंटलाइन शिक्षक तथा छात्रों के लिए पश्चिम बंगाल का सबसे बड़ा वैक्सीनेशन ड्राइव शुरू किया है। कोरोना टीकाकरण के इस महत्वाकांक्षी अभियान में 2,000 शिक्षक और 10,000 छात्रों को कोविड टीका लगाया जाना है। राज्य के 18 साल से अधिक उम्र के छात्रों के साथ शिक्षकों को भी कोरोनावायरस टीका लगाया जाना है।एनएसएचएम नॉलेज केंपस के ट्रस्टी मिस्टर फ्रांसिस एंटनी ने कहा, “कोरोना टीकाकरण अभियान का उद्देश्य शिक्षकों और छात्रों के बीच कोरोना टीके की आसान पहुंच और अधिक से अधिक लोगों की भागीदारी सुनिश्चित करना है।”

- Advertisement -

पश्चिम बंगाल के दुर्गापुर में स्थित एनएसएचएम नॉलेज केंपस के 24 एकड़ जगह को कोरोना टीकाकरण के लिए एक क्लीन, ग्रीन और सेफ प्लेटफार्म की तरह विकसित किया गया है। कोरोना टीका करण के इस महत्वाकांक्षी अभियान में स्कूल और कॉलेज ऑन केंपस या ऑफ केंपस वैक्सीनेशन का चुनाव कर सकते हैं। इसमें स्कूल और कॉलेज के टीचर और स्टूडेंट को टीका लगाया जाना है।

अगर कोई स्कूल या कॉलेज ऑन केंपस वैक्सीनेशन सुविधा चुनता है तो एनएसएचएमऔर मेडिका उस इंस्टिट्यूट को सभी सुविधा उपलब्ध कराने जा रहे हैं। इसके लिए शर्त यह है कि उसमें कम से कम 100 शिक्षकों/छात्रों की उपस्थिति हो। ऑफ केंपस वैक्सीनेशन के लिए एनएसएचएम के केंपस में कोरोना टीका लगाया जा सकता है। यह एनएसएचएम के दुर्गापुर और कोलकाता में उपलब्ध है। दुर्गापुर के एनएसएचएम नॉलेज केंपस में कोविड-19 वैक्सीनेशन सेंटर 10 दिनों के लिए शुरू किया गया है जो 15 जुलाई 2021 तक चलेगा।

Leave A Reply

Your email address will not be published.