पेंटागन बोला- अफगानिस्तान से 14 अगस्त से अब तक 7,000 लोग सुरक्षित निकाले गए

अमेरिकी सुरक्षा एजेंसी पेंटागन ने कहा कि अफगानिस्तान में 14 अगस्त को आरंभ किए गए निकासी अभियान के बाद से अब तक कुल सात हजार लोगों को सुरक्षित निकाला जा चुका है और काबुल में अभी 5,200 से अधिक अमेरिकी सैनिक मौजूद हैं।

0 11

- Advertisement -

वॉशिंगटन । अमेरिकी सुरक्षा एजेंसी पेंटागन ने कहा कि अफगानिस्तान में 14 अगस्त को आरंभ किए गए निकासी अभियान के बाद से अब तक कुल सात हजार लोगों को सुरक्षित निकाला जा चुका है और काबुल में अभी 5,200 से अधिक अमेरिकी सैनिक मौजूद हैं।

कुल मिलाकर, अफगानिस्तान से बाहर आने वाले लोगों की संख्या 12,000 के करीब है। तालिबान ने रविवार को अफगानिस्तान पर कब्जा जमा लिया था।

20 साल तक चले युद्ध के बाद देश से अमेरिकी सैनिकों की वापसी के बीच तालिबान को अचानक मिली जीत से काबुल हवाईअड्डे पर अव्यवस्था की स्थिति उत्पन्न हो गई जहां से अमेरिका और संबद्ध देश अपने हजारों नागरिकों और सहयोगियों को सुरक्षित बाहर निकालने की कोशिश में जुटे हुए हैं।

सैन्य अभियान जांच कमान के कमांडिंग जनरल, मेजर जनरल हैंक टेलर ने कहा, ‘अमेरिका की बची हुई सैन्य टुकड़ियां और काबुल में मैदान पर अब 5,200 से अधिक सैनिक हैं।

काबुल हवाईअड्डा उड़ान अभियानों के लिए सुरक्षित एवं खुला हुआ है। अब ऐसे कई द्वार हैं जो हवाई क्षेत्र में प्रवेश देंगे, जो सुरक्षित और व्यवस्थित तरीके से प्रक्रिया में तेजी लाने में मदद करेंगे।’

तालिबान संकट के बीच अफगानिस्तान से अमेरिकी नागरिकों को हवाई मार्ग से लाने की जिम्मेदारी संभाल रहे मेजर जनरल टेलर ने कहा कि पिछले 24 घंटों में, 13 सी-17 विमानों ने अतिरिक्त सैनिकों एवं उपकरणों के साथ और 12 सी-17 सैन्य विमानों ने यहां से प्रस्थान किया है।

- Advertisement -

उन्होंने कहा कि 2,000 से अधिक यात्रियों को लेकर ये विमान काबुल से रवाना हुए और सेंटकॉम अभियान क्षेत्र में निर्दिष्ट सुरक्षित ठिकानों में पहुंचे।

टेलर ने पेंटागन में संवाददाता सम्मेलन में कहा, ’14 अगस्त को निकासी अभियान शुरू होने के बाद से, हमने लगभग 7,000 लोगों को हवाई मार्ग से सुरक्षित निकाला है।

यह वृद्धि विमान और एयरलिफ्ट क्षमता को बढ़ाने, निकासी की तेज प्रक्रिया, और रिपोर्टिंग में अधिक जानकारी और निष्ठा दोनों को दर्शाती है।’

वहीं, हवाईअड्डे पर भ्रम एवं अव्यवस्था के बीच, अमेरिका ने कहा कि उसने अफगानिस्तान से निकलने के इच्छुक लोगों को राहत देने का कदम उठाया है जिसमें अब उन्हें कोविड-19 की जांच करानी जरूरी नहीं होगी।

अफगानिस्तान भले ही कोरोना वायरस वैश्विक महामारी का बड़ा केंद्र रहा हो लेकिन विदेश मंत्रालय ने कहा है कि वहां से निकाले जा रहे लोगों को यात्रा के लिए कोविड-19 जांच की नेगेटिव रिपोर्ट देनी जरूरी नहीं होगा।

मंत्रालय ने कहा, अमेरिकी सरकार द्वारा अफगानिस्तान से निकाले जा रहे सभी व्यक्तियों के लिए कोविड जांच के संबंध में एक व्यापक मानवीय छूट लागू की गई है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.