सुखज़िन्दर रंधावा पंजाब के नये मुख्यमंत्री!

सुखज़िन्दर रंधावा पंजाब के नये मुख्यमंत्री होंगे। ये नवजोत सिद्धू के खास माने जाते हैं | मुख्यमंत्री के साथ 2 उपमुख्यमंत्री की नियुक्ति होगी इनमे 1 हिंदू और 1 दलित विधायक की इस पद के लिए नियुक्ति होगी|

0 47

- Advertisement -

नई दिल्ली | सुखज़िन्दर रंधावा पंजाब के नये मुख्यमंत्री होंगे। ये नवजोत सिद्धू के खास माने जाते हैं | मुख्यमंत्री के साथ 2 उपमुख्यमंत्री की नियुक्ति होगी इनमे 1 हिंदू और 1 दलित विधायक की इस पद के लिए नियुक्ति होगी|  इसके लिए  अरुणा चौधरी और भारत भूषण के नाम सामने आये हैं | हालाकि इसकी आधिकारिक घोषणा नहीं हुई है |

कांग्रेस विधायक प्रीतम कोटभाई ने कहा,सभी विधायकों ने कांग्रेस आलाकमान के सामने सुखजिंदर रंधावा को मुख्यमंत्री के लिए नामित किया है। वे मुख्यमंत्री बनेंगे|

इधर सुखज़िन्दर रंधावा ने मिडिया से कहा , अब तक कोई निर्णय नहीं हुआ है। अभी आप सब को 2-3 घंटे इंतजार करना होगा|

 

इधर  नए मुख्यमंत्री को लेकर राजनीतिक घटनाक्रम के बीच पंजाब कांग्रेस अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू चंडीगढ़ के जे. डब्ल्यू. मैरियट होटल पहुंचे।

राजनीतिक जानकारों के मुताबिक  नवजोत सिद्धू को पीसीसी चीफ बनाने में रंधावा का बड़ा हाथ था। कांग्रेस ने एक तीर से दो शिकार किये हैँ। सिद्धू ने अमरिंदर सिंह के खिलाफ मोर्चा खोला क्योंकि उन्हें मुख्यमंत्री बनना था और सुखजिंदर ने साथ दिया। कांग्रेस ने मुख्यमंत्री बदला, पर सिद्धू को नहीं बनाया।

- Advertisement -

आपको बता दें कि शनिवार को पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह के इस्तीफे के बाद नए मुख्यमंत्री के रूप में अम्बिका सोनी का नाम आने के बाद उन्होंने कहा था , मैंने पंजाब मुख्यमंत्री पद के लिए मना कर दिया है और उन्हें कहा कि पंजाब मुख्यमंत्री का चेहरा कोई सिख होना चाहिए|

तीन बार के 62 साल के विधायक सुखजिंदर सिंह रंधावा वर्तमान में पंजाब के डेरा बाबा नानक से विधायक हैं और प्रदेश के जेल व सहकारिता मंत्री हैं। वहीँ पंजाब की महिला बाल विकास मंत्री अरुणा चौधरी दलित चेहरा हैं। वहीँ भरत भूषण आशु हिन्दू कोटे से हैं ।

इधर अरुणा चौधरी ने उपमुख्यमंत्री बनने के सवाल पर मिडिया से कहा ऐसे तो बहुत से लोगों का नाम चल रहा है। मैं अभी अपने निजी काम से कहीं जा रही हूं|

चर्चा है कि पंजाब के नए मुख्यमंत्री सुखजिंदर सिंह रंधावा राज्यपाल बनवारी लाल पुरोहित से मिलने राजभवन पहुंचने वाले हैं।

इसके पहले आज ही सुखजिंदर सिंह रंधावा ने  कहा कि उनकी कभी किसी पद की लालसा नहीं रही है।

उन्होंने यह टिप्पणी उस वक्त की थी  जब उनका नाम  कांग्रेस विधायक दल के नेता के संभावित दावेदारों में लिया जा रहा था।

अमरिंदर सिंह पर इशारों-इशारों में निशाना साधते  रंधावा ने कहा, ‘एक मुख्यमंत्री तभी तक अपने पद पर रहता है जब तक उसकी पार्टी और राज्य की जनता उसके साथ खड़ी होती है।

रंधावा ने अमरिंदर सिंह के अपमानित महसूस करने संबंधी बयान पर  कहा, ‘‘भाजपा ने पांच मुख्यमंत्री बदले हैं। कांग्रेस में भी कुछ मुख्यमंत्री बदले गए हैं। कांग्रेस में अमरिंदर साढ़े नौ साल तक मुख्यमंत्री रहे। मेरा मानना है कि उनको जितना सम्मान मिला, उतना किसी मुख्यमंत्री को नहीं मिला।’’

Leave A Reply

Your email address will not be published.