कीव के करीब रूसी सेना, यूक्रेन ने रूस से की बातचीत की अपील

यूक्रेन के राष्ट्रपति वलोडिमिर जेलेंस्की ने रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन से संघर्ष को रोकने के लिए बातचीत करने की  अपील की  है।   उधर रूसी सेना  राजधानी कीव के करीब पहुँच गई है |

0 53

- Advertisement -

यूक्रेन के राष्ट्रपति वलोडिमिर जेलेंस्की ने रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन से संघर्ष को रोकने के लिए बातचीत करने की  अपील की  है।  इंटरफैक्स-यूक्रेन समाचार एजेंसी ने शुक्रवार को जेलेंस्की के हवाले से कहा, ‘पूरे यूक्रेन में लड़ाई चल रही है। आइए बातचीत की मेज पर बैठें।’ उधर रूसी सेना  राजधानी कीव के करीब पहुँच गई है |

उधर क्रेमलिन के प्रवक्ता दिमित्री पेसकोव ने  जानकारी दी है कि रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन यूक्रेन के साथ बातचीत के लिए बेलारूस की राजधानी मिन्स्क में एक रूसी प्रतिनिधिमंडल भेजने के लिए तैयार हैं।

इससे पहले रूस के विदेश मंत्री सर्गेई लावरोव ने कहा कि एक बार यूक्रेन की सेना सरेंडर कर दे तो हम बातचीत के लिए तैयार हैं| उन्होंने कहा कि रूस  यूक्रेन को ‘अत्याचार से मुक्त’ करना चाहता है ताकि यूक्रेन के लोग अपना भविष्य निर्धारित कर सकें|

एपी की रिपोर्ट के मुताबिक यूक्रेन के राष्ट्रपति वलोडिमिर ज़ेलेंस्की ने कीव को खाली करने के अमेरिकी अनुरोध को अस्वीकार कर दिया है | ज़ेलेंस्की ने आगे के हमलों की चेतावनी दी है, जिसमें कहा गया है कि रूसी सेना कीव की राजधानी शहर में “तूफान” करेगी, जो हवाई हमलों की चपेट में है क्योंकि बाहरी इलाके में संघर्ष जारी है।

- Advertisement -

इधर  इंटरनेशनल मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक,   रूसी सेना के राजधानी कीव के करीब पहुंचते ही जेलेंस्की को बंकर में ले जाया गया |

न्यूज एजेंसी एएफपी के मुताबिक, रूसी सेना नॉर्थ ईस्ट और ईस्ट के रास्ते यूक्रेन की राजधानी कीव की ओर बढ़ रही है| यूक्रेन की सेना ने उन्हें  रोकने  तेतरिव नदी पर बना पुल उड़ा दिया  है|

समाचार एजेंसी रायटर्स के  मुताबिक  कीव के अधिकारियों ने लोगों से घर के अंदर रहने को कहा है|  यूक्रेन के राष्ट्रपति जेलेंस्की ने यूरोपीय संघ से रूस पर दबाव बढ़ाने के लिए कड़े प्रतिबंध लगाने का आग्रह किया है|

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक उत्तर-अटलांटिक संधि संगठन (नाटो) के नेताओं ने कहा कि यूक्रेन पर रूस के हमले के बाद वे पूर्वी यूरोप में और सैनिकों को तैनात कर रहे हैं।वहीँ रूस ने  कहा है कि अगर स्वीडन और फिनलैंड नाटो में शामिल होने का इरादा रखते हैं, तो मॉस्को जवाब देगा। (deshdesk)

 

Leave A Reply

Your email address will not be published.