odisha को एक और चक्रवाती तूफान का खतरा, होगी भारी बारिश , chhattisgarh पर भी असर ! 

 odisha को एक और चक्रवाती तूफान का खतरा बना हुआ है| दरअसल  बंगाल की खाड़ी में एक और निम्न दबाव बना है, जिससे भारी बारिश की संभावना जताई गई है| बता दें odisha के बरगढ़ , नुआपड़ा ,कालाहांडी जिले छत्तीसगढ़ की सीमा से सटे हुए हैं| 

0 91

- Advertisement -

odisha को एक और चक्रवाती तूफान का खतरा बना हुआ है| दरअसल  बंगाल की खाड़ी में एक और निम्न दबाव बना है, जिससे भारी बारिश की संभावना जताई गई है| बता दें odisha के बरगढ़ , नुआपड़ा ,कालाहांडी जिले छत्तीसगढ़ की सीमा से सटे हुए हैं|

देश के पश्चिमी और पूर्वी तटीय राज्यों में दो चक्रवातों – तौकता और यास के आने के कुछ दिनों बाद, बंगाल की खाड़ी में एक और निम्न दबाव बना है, जिससे एक और चक्रवाती तूफान के बनने की आशंका है। उत्तर पश्चिमी बंगाल की खाड़ी और उससे सटे odisha , गंगीय पश्चिम बंगाल के तटों पर निम्न दबाव का क्षेत्र अगले 24 घंटों में और अधिक चिह्नित हो जाएगा।

बता दें odisha के बरगढ़ , नुआपड़ा ,कालाहांडी जिले छत्तीसगढ़ की सीमा से सटे हुए हैं|

- Advertisement -

इंडिया मेट्रोलॉजिकल डिपार्टमेंट (आईएमडी के मुताबिक वहीँ अगले 48 घंटों के दौरान odisha के शेष हिस्सों में दक्षिण-पश्चिम मानसून के आगे बढ़ने के लिए परिस्थितियां अनुकूल हैं।

दक्षिण पश्चिम मॉनसून आज 11 जून 2021 को उत्तरी अरब सागर के कुछ और हिस्सों और दक्षिण गुजरात क्षेत्र के कुछ और हिस्सों, दक्षिण मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ और उत्तरी बंगाल की खाड़ी के अधिकांश हिस्सों और पश्चिम बंगाल के अधिक हिस्सों में आगे बढ़ गया है।

इंडिया मेट्रोलॉजिकल डिपार्टमेंट (आईएमडी) ने शुक्रवार को बताया कि अगले 24 घंटों में जाजपुर, भद्रक, केंद्रपाड़ा, जगतसिंहपुर, कटक, ढेंकनाल, अंगुल, संबलपुर, सोनपुर, बौध, बोलांगीर जिलों में एक या दो स्थानों पर भारी से बहुत भारी वर्षा होने की संभावना है।

आईएमडी के अनुसार, पिछले 24 घंटों में उत्तरी तटीय और आंतरिक और दक्षिण ओडिशा के कई जिलों में हल्की से मध्यम बारिश / गरज के साथ बारिश हुई| (deshdesk)

 

Leave A Reply

Your email address will not be published.