छत्तीसगढ़: महंगी हुई बिजली ,नई दरें एक अगस्त से लागू

छत्तीसगढ़ में 3 बरस  बाद बिजली की दरों में इजाफा किया गया है |राज्य विद्युत नियामक आयोग ने विद्युत की नई   दरों में औसत 6 फीसदी की वृद्धि   (औसत 48 पैसे प्रति यूनिट)   की गई है। नई दरें एक अगस्त से प्रभावशील हैं |

0 187

- Advertisement -

रायपुर। छत्तीसगढ़ में 3 बरस  बाद बिजली की दरों में इजाफा किया गया है |राज्य विद्युत नियामक आयोग ने विद्युत की नई   दरों में औसत 6 फीसदी की वृद्धि   (औसत 48 पैसे प्रति यूनिट)   की गई है। नई दरें एक अगस्त से प्रभावशील हैं |

बिजली नियामक आयोग ने कहा है कि घरेलू उपभोक्ताओं से फिक्सड चार्ज लिया जायेगा। बिजली नियामक आयोग ने निर्देश दिया है कि अब 5000 रूपये से ज्यादा बिजली बिल का भुगतान आनलाइन किया जायेगा।

गैर सब्सिडी वाले कृषि पंप को उर्जा प्रभार में 10 प्रतिशत की छूट को 20 प्रतिशत किया गया है। चेयरमैन हेमंत शर्मा के मुताबिक राजस्व में लगातार कमी की वजह से ये बढ़ोत्तरी की जानी जरूरी थी। पिछले साल भी इसमें बढ़ोत्तरी किया जाना था, लेकिन नहीं किया जा सका।

- Advertisement -

छत्तीसगढ़ राज्य विद्युत नियामक आयोग द्वारा राज्य की विद्युत कम्पनियों के विगत वर्षों के राजस्व घाटा तथा राजस्वें आधिक्य पर विचारोपरांत वर्ष 2021-22 के लिए विद्युत वितरण कम्पनी द्वारा मांग की गई वार्षिक राजस्व आवश्यकता रूपये 19726 करोड़ को घटाकर रूपये 16171 करोड़ मान्य किया गया है।

इसी तरह वितरण कम्पनी द्वारा आगामी वित्तीय वर्ष हेतु अनुमानित विक्रित यूनिट 25202 मिलियन यूनिट मान्य की गई है जो वितरण कंपनी के अनुमान 26069 मिलियन यूनिट से 3 प्रतिशत कम है।

इस तरह  वित्तीय वर्ष 2021 22 के लिए आयोग द्वारा आकलित औसत विद्युत प्रदाय दर रूपये 6.41/- निर्धारित होती है जो विगत वर्ष रूपये 5.93/- प्रति यूनिट थी, जो विगत वर्ष की तुलना में 48 पैसे प्रति यूनिट अधिक है। नई विद्युत दरें 1 अगस्त, 2021 से प्रभावशील होगीं।

Leave A Reply

Your email address will not be published.