बस्तर के सुकमा–नारायणपुर में 5 नक्सली गिरफ्तार

बस्तर संभाग के सुकमा और नारायणपुर  में  सुरक्षाबलों ने गुरुवार को 5 नक्सलियों को गिरफ्तार किया है। सुकमा में पकड़े गए नक्सली 2 सहायक आरक्षकों की हत्या में शामिल थे।

0 2

जगदलपुर|  बस्तर संभाग के सुकमा और नारायणपुर  में  सुरक्षाबलों ने गुरुवार को 5 नक्सलियों को गिरफ्तार किया है। सुकमा में पकड़े गए नक्सली 2 सहायक आरक्षकों की हत्या में शामिल थे। पुलिस ने उनकी निशानदेही पर वारदात में प्रयुक्त खून से सना डंडा भी बरामद किया है।

वहीं नारायणपुर से भी आईईडी  ब्लास्ट में शामिल 3 नक्सलियों को पकड़ा गया। सभी को शुक्रवार को कोर्ट में पेश किया गया, जहां से उन्हें जेल भेज दिया गया है।  एडिशनल एस पी सचिंद्र चौबे ने बताया कि 6 मई की शाम जिला पुलिस बल और  सीआरपीएफ 19वीं बटालियन के जवान संयुक्त रूप से चिंतागुफा की ओर सर्चिंग पर निकले थे।

इसी दौरान सूचना मिलने पर घेराबंदी कर उइका आयता और एलारमडगू से मड़काम हड़मा को पकड़ लिया। पूछताछ में दोनों ने बताया कि 15 अप्रैल को भेज्जी क्षेत्र में दो सहायक कांस्टेबल धनीराम कश्यप और पुनेम हड़मा की हत्या कर शव सड़क पर फेंक दिया था।

दोनों कांस्टेबल बाजार में सामान लेने के लिए गए थे। इसी दौरान पकड़े गए दोनों नक्सलियों ने कोंटा एरिया कमेटी सचिव मड़ंगू, मिलिशिया कमांडर गजेंद्र और कवासी हूंगा सहित अन्य नक्सलियों के साथ मिलकर दोनों जवानों की धारदार हथियार व लाठी-डंडे से पीटकर हत्या कर दी थी। पुलिस ने दोनों नक्सलियों की निशानदेही पर वारदात में प्रयुक्त खून से सना डंडा बरामद कर लिया है।

बस्तर के नारायणपुर एएसपी  नीरज चंद्राकर ने बताया कि कोहकामेटा इलाके में नक्सलियों ने ब्लास्ट की थी। इसमें आईटीबीपी  का एक जवान शहीद हुआ था। इस वारदात में शामिल दो नक्सलियों गणेश राम नुरेटी और लखमू राम नुरेटी को गिरफ्तार किया गया है।

इनसे पूछताछ में कई और बड़े नक्सलियों के नाम सामने आए हैं। इसके अलावा एक नक्सली बलराम कोर्राम उर्फ बलिराम को पकड़ा है। वह छोटे डोंगर क्षेत्र के बेचा में सर्चिंग के दौरान जवानों पर हमले में शामिल था।

 

Leave A Reply

Your email address will not be published.